मोदी ने नोट बैन कर तोड़ा पत्नियों का दिल

भोपाल। पीएम मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए मंगलवार शाम घोषणा की कि आधी रात से 500 और 1000 रूपये के पुराने नोट बंद हो जाएंगे और वो मान्य नहीं रहेंगे और उनकी कीमत सिर्फ कागज़ के टुकड़े ही रह जाएंगे। इस फैसले के बाद आम जनता कि प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं।




गृहणी पूनम पाटिल ने मोदी जी के इस फैसले को सराहनीय बताया और सरकार के इस कदम का स्वागत किया है। उन्होंने कहा इस फैसले से कालेधन को बाहर लाने में मदद मिलेगी वहीं अपने दिल की बात भी कह देती है कि ‘मोदी जी का यह कदम उन महिलाओं के लिए दिल तोड़ने वाला है, जो अपने पतियों से छिपाकर कुछ रुपए बचा लेती है’।




वहीं, भोपाल से चेन्नई जा रहे अविनाश को सरकार का यह फैसला रास नहीं आ रहा है। अविनाश का कहना है कि उन्हें किसी को नकद राशि देने के लिए चेन्नई जाना है।उन्होंने एटीएम से यह राशि निकाल ली और कल सुबह उन्हें ट्रेन पकड़ना है। अब उनके अकाउंट में पैसे नहीं है और एटीएम से निकले 500 और 1000 रुपए के नोट उनके किसी काम के नहीं बचे हैंं।

सिक्योरिटी गार्ड का काम करने वाले फ्रांसिस बताते हैं कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है कि सरकार के इस फैसले का इकॉनामी के लिए कितना फायदेमंद होगा। प्रदेश18 ने खासतौर पर उन लोगों के ‘मन की बात’ जानने की कोशिश की, जिनके लिए 500 या 1000 रुपए आड़े वक्त में एक बड़ी राशि होती है।

आस्था सिंह की रिपोर्ट