भ्रष्टाचार के मामले में लालू से भी चार कदम आगे निकले केजरीवाल: मनोज तिवारी

नई दिल्ली। दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के खिलाफ आरोप लगा कर नया विवाद पैदा कर दिया है। मिश्रा के इस आरोप के बाद आम आदमी पार्टी(आप) आलोचनाओं के निशाने पर है। अन्य पार्टी के नेता आप पर चौतरफा हमला कर रहे है। अब इसी कूच में दिल्ली बीजेपी प्रमुख मनोज तिवारी भी कूद पड़े है। तिवारी ने रविवार को इस मसले पर बयान देते हुए कहा कि केजरीवाल भ्रष्टाचार के मामले में आरजेडी चीफ लालू प्रसाद से भी चार कदम आगे निकले। वहीं, कांग्रेस ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में सरकार पूरी तरह अपंग हो गई है और इसका सबसे ज्यादा नुकसान दिल्ली की जनता को हो रहा है।




तिवारी ने मीडिया से कहा, ‘यह दिल्ली के लिए काला दिन है। पूरी दिल्ली कपिल मिश्रा के खुलासे के बाद हैरान है। सभी राज्यों के मुख्यमंत्री भी इस खुलासे से हैरान होंगे। यह सिर्फ आरोप नहीं है, बल्कि एक प्रत्यक्षदर्शी का बयान है। मैं कपिल मिश्रा को उनके साहस के लिए धन्यवाद कहना चाहूंगा जो उन्होंने भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा कर दिखाया है।’





इधर, कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा, ‘कपिल मिश्रा ने केजरीवाल और आप सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण, आनंद कुमार के साथ केजरीवाल के झगड़े को देखें तो आप के अंदर कलह नई बात नहीं है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘आप का गठन आतंरिक लोकपाल, आंतरिक लोकतंत्र और भ्रष्टाचार के मुद्दे पर हुआ था। अब सबकुछ सत्ता की खींचतान के इर्द-गिर्द घूम रहा है।’