1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. भूपेश बघेल, बोले- असम विधानसभा चुनाव में एकतरफा जीत दर्ज करेगी कांग्रेस

भूपेश बघेल, बोले- असम विधानसभा चुनाव में एकतरफा जीत दर्ज करेगी कांग्रेस

असम विधानसभा चुनाव के पहले और दूसरे चरण की वोटिंग खत्म हो गई है। अब तीसरे चरण की वोटिंग पर सभी की निगाहें टिकी हैं। राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस राज्य चुनावों में अपनी जीत को लेकर आश्वस्त नजर आ रही है। असम चुनाव में कांग्रेस के प्रभारी व छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उम्मीद जताई है कि चुनाव परिणामों में कांग्रेस को एकतरफा जीत मिलेगी।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। असम विधानसभा चुनाव के पहले और दूसरे चरण की वोटिंग खत्म हो गई है। अब तीसरे चरण की वोटिंग पर सभी की निगाहें टिकी हैं। राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस राज्य चुनावों में अपनी जीत को लेकर आश्वस्त नजर आ रही है। असम चुनाव में कांग्रेस के प्रभारी व छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उम्मीद जताई है कि चुनाव परिणामों में कांग्रेस को एकतरफा जीत मिलेगी। असम चुनाव में कांग्रेस के प्रदर्शन पर भूपेश बघेल ने कहा कि आखिर क्यों कांग्रेस नेता को लगता है कि पार्टी 2021 की गर्मियों में जीत का स्वाद चखेगी।

पढ़ें :- Advertisements Guidelines : मोदी सरकार सट्टेबाजी से जुडे़ विज्ञापनों पर सख्त, दी ये हिदायत

सोनेवाल-सरमा की लड़ाई का मिलेगा फायदा
भूपेश बघेल ने कहा कि पहले चरण में हमने सबसे ज्यादा मेहनत की है। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की सभाएं भी वहीं हुईंं। ऊपरी असम में कांग्रेस कमजोर थी, लेकिन कार्यकर्ता पूरी तरह तैयार थे। उन्होंने कहा कि बीजेपी हमेशा मुख्यमंत्री का चेहरा लेकर चुनाव लड़ती रही है, लेकिन पहली बार असम में बीजेपी का मुख्यमंत्री है, लेकिन उसको चेहरा नहीं बनाया गया है। बघेल ने कहा कि सोनेवाल और हेमंत बिस्वा सरमा के बीच की लड़ाई कांग्रेस को फायदा देगी।

राज्य की करीमगंज विधानसभा में ईवीएम पर मचे बवाल को लेकर उन्होंने कहा कि ईवीएम एक जगह पकड़ी गई, लेकिन घटना को पांच राज्यों के चुनाव से जोड़कर देखा जाना चाहिए। ये चुनाव आयोग पर सवाल है। आब्जर्वर हैं। लेकिन, बीजेपी के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं। बीजेपी द्वारा कांग्रेस पर तुष्टीकरण का आरोप लगाने के सवाल पर भूपेश बघेल ने कहा कि अजमल के साथ असम में गठबंधन करना, कांग्रेस का मुस्लिम तुष्टिकरण कहला रहा है, कौन हम पर आरोप लगा रहा है? जो अंग्रेजों के साथ थे?

पीडीपी के साथ सरकार बीजेपी ने बनाई। राज्यसभा में अजमल का समर्थन लिया है। ये दोहरी नीति बीजेपी की है। संशोधित नागरिकता कानून (CAA) पर भूपेश बघेल ने बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि तमिलनाडु और असम में सीएए पर बात नहीं करते हैं। बंगाल में कहते हैं कि सत्ता में आए तो सीएए लागू करेंगे। बीजेपी का सबकुछ वोट के लिए है. कांग्रेस सबको साथ लेकर चलती है। किसान के साथ बीजेपी का यही रवैया है।

उन्होंने कहा कि असम में बीजेपी के नेताओं का बयान जिस तरह आ रहा है, उससे पार्टी की हताशा साफ नजर आती है। बीजेपी चुनाव हार रही है। चुनाव में बीजेपी के 100 सीटें जीतने के अमित शाह के दावे पर भूपेश बघेल ने कहा कि अमित शाह ने छत्तीसगढ़ में भी कहा था कि 65 से ज्यादा सीटें लेकर आएंगे। कांग्रेस पार्टी को 68 सीटें मिलीं। असम की जनता ने मन बना लिया है। असम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरों के प्रभाव पर बघेल ने कहा कि पीएम के दौरे से बहुत ज्यादा फर्क नहीं पड़ने वाला है। पिछले चुनाव में प्रधानमंत्री सर्वानंद कहते थे, लेकिन सर्वानंद असम में गठबंधन बन गए इसलिए प्रधानमंत्री अब उनका नाम भी नहीं ले रहे हैं।

पढ़ें :- अखिलेश यादव निशाना, कहा-भाजपा राज में जनता को 5G पहले से ही मिल रही, गरीबी, घोटाला, घपला, और घालमेल

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...