1. हिन्दी समाचार
  2. फिरोजाबाद में बड़ा हादसा: खड़े ट्रक में घुसी स्लीपर बस, 14 की मौत, 35 घायल

फिरोजाबाद में बड़ा हादसा: खड़े ट्रक में घुसी स्लीपर बस, 14 की मौत, 35 घायल

By बलराम सिंह 
Updated Date

Big Crash In Firozabad Sleeper Bus Rammed Into A Standing Truck 14 Killed 35 Injured

लखनऊ। दिल्ली से बिहार जा रही एक स्लीपर बस यूपी के फिरोजाबाद में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर बुधवार देर रात एक ट्रक से टकरा गई। हादसे में 14 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि 35 यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए सैफई पीजीआई में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि बस में 90 लोग सवार थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने बस दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए डीएम व एसपी को तत्काल मौके पर पहुंच कर राहत कार्य करने के निर्देश दिए हैं। एडीजी व आईजी भी मौके पर पहुंचे।

पढ़ें :- 18 अप्रैल 2021 का राशिफल: इन राशि के जातकों को होगा बड़ा लाभ, इनका तनाव दूर होगा... जानिए अपनी राशि का हाल

बताया जा रहा है कि निजी बस जब हाईवे पर भदान गांव के पास पहुंची, तब बेकाबू होकर एक ट्रक में पीछे से घुस गई। शोर शराबा सुनकर मौके स्थानीय लोग पहुंच गए। उन्होंने राहत कार्य शुरू कर दिया। हादसे की सूचना तत्काल पुलिस को दी गई। सूचना ​मिलते ही मौके पर तीन थानों की पुलिस पहुंच गई। एडीजी जोन अजय आनंद और आईजी रेंज ए. सतीश गणेश भी मौके पर पहुंचे। हादसे में मारे गए लोगों की देर रात तक शिनाख्त नहीं हो पाई।

मौके पर पहुंचे एडीजी जोन अजय आनंद और आईजी रेंज ए सतीश गणेश ने बताया कि बस के अगले हिस्से के परखच्चे उड़ गए। मौके पर पहुंचे लोगों ने पुलिस की मदद से घायलों को बाहर निकाला। घायलों को तत्काल एंबुलेंस से पीजीआई सैफई भेजा गया है। बताया जा रहा है कि तीन लोगों की मौत मौके पर ही हो गई थी। कुछ देर में एक और यात्री ने दम तोड़ दिया। सैफई भेजे गए 35 घायलों में से छह की मृत्यु हो गई है। हादसा इतना भीषण था कि टक्कर होते ही चीख-पुकार मच गई। आसपास के लोग मौके पर दौड़े। यूपीडा की राहत टीम भी सूचना के बाद मौके पर पहुंची। नगला खंगर पुलिस और डायल 112 भी पहुंच गई।

दिल्ली से बिहार जा रही स्लीपर बस आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर भदान गांव के पास बुधवार देर रात एक ट्रक से टकरा गई। बस सवार 14 लोगों की मौत हो गई। हादसे के बाद देर रात तक 35 घायलों को एम्बुलेंस से सैफई अस्पताल पहुंचाया गया। जिनमें से 14 को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इस कारण सैफई में अफरा-तफरी मची रही। मृतकों में फिरोजाबाद, देवरिया, दिल्ली व बिहार के अलग-अलग शहरों के रहने वाले थे। हादसे की सूचना पर एसपी, डीएम मौके पर सैफई मेडिकल कॉलेज पहुंचे।

पढ़ें :- कोरोना इफेक्ट : विंध्यवासिनी मंदिर के द्वार 21 अप्रैल तक श्रद्धालुओं के लिए बंद

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...