यमुना एक्सप्रेस वे हादसे में मरने वालों की संख्या हुई 30, अब तक 13 की हुई पहचान

h

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा यमुना एक्सप्रेस वे के पास झरना नाले में गिरी डबल डेकर एसी हादसे में मरने वालों की संख्या अब 30 हो गयी है। मृतकों में डेढ़ साल की बच्ची भी शामिल है। वहीं 22 लोग घायल हैं। अब तक 13 मृतकों की पहचान हो चुकी है। बाकी 17 मृतकों के पहचान के लिए पुलिस प्रयास कर रही है। हादसे के संबंध में पुलिस कंट्रोल रूम ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है।

Big Road Accident On Yamuna Expressway :

यह दर्दनाक हादसा आगरा के थाना एत्मादपुर क्षेत्र में हुआ है।। बताया जा रहा है कि ड्राइवर को झपकी लगने के चलते बस बेकाबू चार फुट ऊंची रेलिंग पर चढ़ गई। इसके बाद खाई में जा गिरी। हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। अब तक 30 लोगों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लाए गए हैं। बस में करीब 40 से 45 लोग सवार थे। बस लखनऊ से दिल्ली जा रही थी। जब बस यमुना एक्सप्रेस वे पर झरना नाले के पास पहुंची तो ड्राइवर को झपकी आ गई।

डबल डेकर एसी स्लीपर बस लखनऊ से रविवार रात को चली गई थी। सोमवार तड़के करीब साढ़े चार बजे थाना एत्मादपुर क्षेत्र में यह हादसा हो गया। चालक को झपकी आने से बेकाबू हुई बस यमुना एक्सप्रेस वे से 60 फीट नीचे झरना नाले में जा गिरी। बताया जा रहा है कि बस 150 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ रही थी।

बस डिवाइडर से टकराकर एक पुुट ऊंचे डिवाइडर पर चढ़ी फिर चार फुट ऊंची रेलिंग पर 25 मीटर तक घिसटती गई। इस दौरान टायर फट गया और 60 फीट नीचे खाई में जा गिरी। हादसे के वक्त ज्यादातर लोग नींद में थे। 29 लोगों की तो मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक घायल यात्री ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। घायलों को पुलिस ने आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने एसपी और डीएम को मौके पर पहुंचकर घायलों को जल्द इलाज दिलाने के निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिवार वालों को पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। सीएम ने डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और परिवहन मंत्री को फौरन मौके पर भेजा है।

हादसे में मरने वालों में अंकुश श्रीवास्तव, आकाश श्रीवास्तव, अमित कुमार, दीपक कुमार पांडे, सत्यप्रकाश तिवारी, अविनाश अवस्थी, आदित्य कश्यप, विजय बहादुर सिंह, प्रियांशू मिश्राए इंतख्वाब अहमद खां, धीरज पांडे, प्रेमचंद और सत्यप्रकाश शर्मा की पहचान हुई है। यमुना एक्सप्रेस वे बस हादसे के संबंध में पुलिस कंट्रोल रूम द्वारा हेल्पाइन नंबर जारी भी कर दिया गया है। हादसे से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए इस नंबर 0562-2260001 पर संपर्क किया जा सकती है।

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा यमुना एक्सप्रेस वे के पास झरना नाले में गिरी डबल डेकर एसी हादसे में मरने वालों की संख्या अब 30 हो गयी है। मृतकों में डेढ़ साल की बच्ची भी शामिल है। वहीं 22 लोग घायल हैं। अब तक 13 मृतकों की पहचान हो चुकी है। बाकी 17 मृतकों के पहचान के लिए पुलिस प्रयास कर रही है। हादसे के संबंध में पुलिस कंट्रोल रूम ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। यह दर्दनाक हादसा आगरा के थाना एत्मादपुर क्षेत्र में हुआ है।। बताया जा रहा है कि ड्राइवर को झपकी लगने के चलते बस बेकाबू चार फुट ऊंची रेलिंग पर चढ़ गई। इसके बाद खाई में जा गिरी। हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। अब तक 30 लोगों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लाए गए हैं। बस में करीब 40 से 45 लोग सवार थे। बस लखनऊ से दिल्ली जा रही थी। जब बस यमुना एक्सप्रेस वे पर झरना नाले के पास पहुंची तो ड्राइवर को झपकी आ गई। डबल डेकर एसी स्लीपर बस लखनऊ से रविवार रात को चली गई थी। सोमवार तड़के करीब साढ़े चार बजे थाना एत्मादपुर क्षेत्र में यह हादसा हो गया। चालक को झपकी आने से बेकाबू हुई बस यमुना एक्सप्रेस वे से 60 फीट नीचे झरना नाले में जा गिरी। बताया जा रहा है कि बस 150 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ रही थी। बस डिवाइडर से टकराकर एक पुुट ऊंचे डिवाइडर पर चढ़ी फिर चार फुट ऊंची रेलिंग पर 25 मीटर तक घिसटती गई। इस दौरान टायर फट गया और 60 फीट नीचे खाई में जा गिरी। हादसे के वक्त ज्यादातर लोग नींद में थे। 29 लोगों की तो मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक घायल यात्री ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। घायलों को पुलिस ने आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने एसपी और डीएम को मौके पर पहुंचकर घायलों को जल्द इलाज दिलाने के निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिवार वालों को पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। सीएम ने डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और परिवहन मंत्री को फौरन मौके पर भेजा है। हादसे में मरने वालों में अंकुश श्रीवास्तव, आकाश श्रीवास्तव, अमित कुमार, दीपक कुमार पांडे, सत्यप्रकाश तिवारी, अविनाश अवस्थी, आदित्य कश्यप, विजय बहादुर सिंह, प्रियांशू मिश्राए इंतख्वाब अहमद खां, धीरज पांडे, प्रेमचंद और सत्यप्रकाश शर्मा की पहचान हुई है। यमुना एक्सप्रेस वे बस हादसे के संबंध में पुलिस कंट्रोल रूम द्वारा हेल्पाइन नंबर जारी भी कर दिया गया है। हादसे से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए इस नंबर 0562-2260001 पर संपर्क किया जा सकती है।