1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Kalraj Mishra का बड़ा बयान- कृषि कानूनों को फिर से लागू कर सकती है केंद्र सरकार

Kalraj Mishra का बड़ा बयान- कृषि कानूनों को फिर से लागू कर सकती है केंद्र सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के अवसर पर अपना कदम पीछे खींचते हुए कृषि कानूनों (Agricultural Laws) की वापसी के एलान कर चुके हैं, लेकिन इसी बीच यूपी के भदोही जिले में पहुंचे राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने कृषि कानूनों (Agricultural Laws) को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार (Central government) कृषि कानूनों (Agricultural Laws) को फिर से लागू कर सकती है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

भदोही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के अवसर पर अपना कदम पीछे खींचते हुए कृषि कानूनों (Agricultural Laws) की वापसी के एलान कर चुके हैं, लेकिन इसी बीच यूपी के भदोही जिले में पहुंचे राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने शनिवार को कृषि कानूनों (Agricultural Laws) को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार (Central Government) कृषि कानूनों (Agricultural Laws) को फिर से लागू कर सकती है।

पढ़ें :- PM की रैली में आने वाले वाहनों के पार्किंग स्थल का डीएम ने किया निरीक्षण

बता दें कि राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने तीन कृषि कानूनों की वापसी की घोषणा को सकारात्मक दिशा में उठाया गया कदम बताया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों को कानूनों के फायदे समझाने की कोशिश की, लेकिन वे निरस्त करने पर अड़े रहे। ये कानून किसानों के हित में बनाए गए थे।

उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government)ने महसूस किया कि इसे वापस ले लिया जाना चाहिए। अभी समय अनुकूल नहीं है, इसलिए यह बिल दोबारा आ सकता है। कलराज मिश्र (Kalraj Mishra)  ने यह बयान भदोही में मीडिया से बात करते हुए दिया है। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन कर रहे थे। कृषि कानून (Agricultural Law)  वापस लेने की मांग कर रहे थे। सरकार ने कानून वापस लेने का एलान कर दिया है।

 

कानून बनते और बिगड़ते रहते हैं : साक्षी महाराज

पढ़ें :- Infinity Forum: पीएम मोदी बोले-जब तकनीक अपनाने की बात आती है तो भारत किसी से पीछे नहीं है

बता दें कि इससे पहले सांसद साक्षी महाराज (MP Sakshi Maharaj) कृषि कानूनों को वापस लेने के सवाल पर कहा कि कानून तो आते-जाते रहते हैं। उन्होंने कहा​ कि बनते व बिगड़ते रहते हैं। किसान नेता राकेश टिकैत के आंदोलन समाप्त न करने के सवाल पर साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने कहा कि राकेश टिकैत हो या कोई और इनके कुछ भी कहने से कोई फर्क नहीं पड़ता है। देश को मोदी पर भरोसा है। किसानों को मोदी पर भरोसा है। हमें मोदी पर भरोसा है। मोदी जो करेंगे राष्ट्रहित में करेंगे।

साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने कहा कि हिंदुस्तान की राजनीति ने जिनको नकार दिया है, उन राजनीति के पप्पू राहुल गांधी (Rahul Gandhi) या प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) का नाम नाम लेने का कोई औचित्य ही नहीं है। किसी में ताकत है तो 2022 सामने है चुनावी युद्ध के मैदान में आएं और लड़ें। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) तो खिसियानी बिल्ली की तरह खंभा नोच रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...