कश्मीर में सुरक्षाकर्मियों के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, दो आतंकी ठिकानों का किया भंडाफोड़

    indian army

    श्रीनगर (उत्तम हिन्दू न्यूज): जम्मू कश्मीर में आज भारतीय सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता मिली है। दक्षिणी कश्मीर में पुलवामा जिले के बदरु, बारसो में दो आतंकी ठिकानों का सेना ने भंडाफोड़ किया है। आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में विस्फोटक सामग्री और गोला-बारूद बरामद किया गया है। बता दें कि इससे पहले बुधवार को सुरक्षाकर्मियों ने पुलवामा में हिजबुल के कमांडर आजाद ललहारी को एनकाउंटर में मौत के घाट उतार दिया था।

    Big Success In Security Hands In Kashmir Two Terrorist Hideouts Busted :

    सेना की 50-आरआर(राष्ट्रीय राइफल्स), सीआरपीएफ की बटालियन-130 और अवंतीपोरा पुलिस की संयुक्त टीम ने इस सफल ऑपरेशन को अंजाम दिया है। बता दें कि पुलिस को सूचना मिली थी कि अवंतीपोरा के बदरु, बारसो वन क्षेत्र में लश्कर के आतंकियों ने छिपने का ठिकाना बना रखा है। इसी सूचना के आधार पर सेना की 50-आरआर, सीआरपीएफ की बटालियन-130 और अवंतीपोरा पुलिस ने इलाके में बुधवार रात तलाशी अभियान शुरू किया था।

    तलाशी अभियान में गुरुवार को सुरक्षाबलों को लश्कर के दो आतंकी ठिकाने मिले, जिन्हें नष्ट कर दिया गया है। आतंकी ठिकानों से एके-47 राइफल के 1918 कारतूस, दो ग्रेनेड, एक यूजीबीएल थ्रोवर, चार यूजीबीएल, अमोनियम नाइट्रेट जैसे पदार्थ के साथ ही अन्य आपत्तिजनक भी बरामद हुई हैं। इसके साथ 5400 रुपये (भारतीय मुद्रा), बर्तन, गैस स्टोव, गैस सिलेंडर और अन्य खाद्य सामग्री भी बरामद हुई है।

    कश्मीर में बीते कुछ दिनों में कई आतंकी घटनाएं हुई हैं। खासतौर से भाजपा के नेताओं को घाटी में निशाना बनाया गया है। बडगाम में आतंकियों ने बीजेपी के ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष अब्दुल हामिद नजर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। बीते 6 अगस्त को भी ऐसी ही घटना सामने आई थी, कुलगाम स्थित वेसू में आतंकियों ने स्थानीय सरपंच सज्जाद अहम खांडे को उनके घर के बाहर गोली मार दी थी। घटना के बाद सरपंच को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मौत हो गई थी। 4 अगस्त भाजपा नेता आरिफ अहमद को भी आतंकियों ने गोली मारी थी और फरार हो गए थे।

    श्रीनगर (उत्तम हिन्दू न्यूज): जम्मू कश्मीर में आज भारतीय सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता मिली है। दक्षिणी कश्मीर में पुलवामा जिले के बदरु, बारसो में दो आतंकी ठिकानों का सेना ने भंडाफोड़ किया है। आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में विस्फोटक सामग्री और गोला-बारूद बरामद किया गया है। बता दें कि इससे पहले बुधवार को सुरक्षाकर्मियों ने पुलवामा में हिजबुल के कमांडर आजाद ललहारी को एनकाउंटर में मौत के घाट उतार दिया था। सेना की 50-आरआर(राष्ट्रीय राइफल्स), सीआरपीएफ की बटालियन-130 और अवंतीपोरा पुलिस की संयुक्त टीम ने इस सफल ऑपरेशन को अंजाम दिया है। बता दें कि पुलिस को सूचना मिली थी कि अवंतीपोरा के बदरु, बारसो वन क्षेत्र में लश्कर के आतंकियों ने छिपने का ठिकाना बना रखा है। इसी सूचना के आधार पर सेना की 50-आरआर, सीआरपीएफ की बटालियन-130 और अवंतीपोरा पुलिस ने इलाके में बुधवार रात तलाशी अभियान शुरू किया था। तलाशी अभियान में गुरुवार को सुरक्षाबलों को लश्कर के दो आतंकी ठिकाने मिले, जिन्हें नष्ट कर दिया गया है। आतंकी ठिकानों से एके-47 राइफल के 1918 कारतूस, दो ग्रेनेड, एक यूजीबीएल थ्रोवर, चार यूजीबीएल, अमोनियम नाइट्रेट जैसे पदार्थ के साथ ही अन्य आपत्तिजनक भी बरामद हुई हैं। इसके साथ 5400 रुपये (भारतीय मुद्रा), बर्तन, गैस स्टोव, गैस सिलेंडर और अन्य खाद्य सामग्री भी बरामद हुई है। कश्मीर में बीते कुछ दिनों में कई आतंकी घटनाएं हुई हैं। खासतौर से भाजपा के नेताओं को घाटी में निशाना बनाया गया है। बडगाम में आतंकियों ने बीजेपी के ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष अब्दुल हामिद नजर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। बीते 6 अगस्त को भी ऐसी ही घटना सामने आई थी, कुलगाम स्थित वेसू में आतंकियों ने स्थानीय सरपंच सज्जाद अहम खांडे को उनके घर के बाहर गोली मार दी थी। घटना के बाद सरपंच को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मौत हो गई थी। 4 अगस्त भाजपा नेता आरिफ अहमद को भी आतंकियों ने गोली मारी थी और फरार हो गए थे।