बढ़ेगा लाॅकडाउन का समय! सरकार की इस योजना के बाद लग रहे कयास

lockdown-1-696x407

नई दिल्ली। दुनियाभर में महामारी बन चुका कोरोना वायरस भारत में भी अब जमकर तबाही मचा रहा है। देशभर में अब तक कोरोना से लगभग 650 से ज्यादा लोग संक्रमित है तो वहीं इससे मरने वालों की संख्या भी 16 के करीब पहुंच चुकी है। कोरोना से बचाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने देश में 21 दिनों का लाॅकडाउन का ऐलान किया है। लेकिन अभी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों ने कयास लगाने शुरु कर दिए है कि यह लाॅकडाउन 21 दिनों से ज्यादा भी हो सकता है।

Bigga Lockdown Time After This Plan Of The Government There Are Speculations :

दूसरी तरफ लॉकडाउन के दूसरे दिन मोदी सरकार ने राहत पैकेज का ऐलान किया, लेकिन जिस तरह हर योजना को अगले तीन महीने के लिए तैयार किया गया। ऐसे में इन बातों को भी खासा बल मिल रहा है की यह लाॅकडाउन 21 दिन से ज्यादा भी हो सकता है। कोरोना की वायरस की चेन को तोड़ने के लिए 21 दिनों तक सोशल डिस्टेंसिंग जारी रखना काफी अहम है। हालांकि इस बात को खुद पीएम मोदी भी कई बार कहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कई बार इसका जिक्र किया है कि विशेषज्ञों ने कोरोना वायरस की चेन को तोड़ने के लिए 21 दिनों तक सोशल डिस्टेंसिंग जारी रखने की बात कही है। इसी वजह से देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है लेकिन अगर विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा दिए गए कुछ बयानों को गौर करें तो इनमें कहा गया है कि ये जरूरी नहीं है कि लॉकडाउन से ही कोरोना वायरस का खतरा दूर हो।

इसके लिए उन मरीजों की तलाश करना और उनका समय से इलाज करना भी जरूरी है जो इससे पीड़ित हैं। साथ ही उनके संपर्क में आए सभी लोगों को क्वारनटीन में रखना भी जरूरी है, ताकी यह अन्य लोगों तक ना पहुंच सके।

नई दिल्ली। दुनियाभर में महामारी बन चुका कोरोना वायरस भारत में भी अब जमकर तबाही मचा रहा है। देशभर में अब तक कोरोना से लगभग 650 से ज्यादा लोग संक्रमित है तो वहीं इससे मरने वालों की संख्या भी 16 के करीब पहुंच चुकी है। कोरोना से बचाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने देश में 21 दिनों का लाॅकडाउन का ऐलान किया है। लेकिन अभी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों ने कयास लगाने शुरु कर दिए है कि यह लाॅकडाउन 21 दिनों से ज्यादा भी हो सकता है।

दूसरी तरफ लॉकडाउन के दूसरे दिन मोदी सरकार ने राहत पैकेज का ऐलान किया, लेकिन जिस तरह हर योजना को अगले तीन महीने के लिए तैयार किया गया। ऐसे में इन बातों को भी खासा बल मिल रहा है की यह लाॅकडाउन 21 दिन से ज्यादा भी हो सकता है। कोरोना की वायरस की चेन को तोड़ने के लिए 21 दिनों तक सोशल डिस्टेंसिंग जारी रखना काफी अहम है। हालांकि इस बात को खुद पीएम मोदी भी कई बार कहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कई बार इसका जिक्र किया है कि विशेषज्ञों ने कोरोना वायरस की चेन को तोड़ने के लिए 21 दिनों तक सोशल डिस्टेंसिंग जारी रखने की बात कही है। इसी वजह से देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है लेकिन अगर विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा दिए गए कुछ बयानों को गौर करें तो इनमें कहा गया है कि ये जरूरी नहीं है कि लॉकडाउन से ही कोरोना वायरस का खतरा दूर हो।

इसके लिए उन मरीजों की तलाश करना और उनका समय से इलाज करना भी जरूरी है जो इससे पीड़ित हैं। साथ ही उनके संपर्क में आए सभी लोगों को क्वारनटीन में रखना भी जरूरी है, ताकी यह अन्य लोगों तक ना पहुंच सके।