बिहार : आरक्षण के मुद्दे पर नीतीश कुमार पर युवक ने फेंका चप्पल

बिहार : आरक्षण के मुद्दे पर नीतीश कुमार पर युवक ने फेंका चप्पल
बिहार : आरक्षण के मुद्दे पर नीतीश कुमार पर युवक ने फेंका चप्पल

बिहार। पटना के बापू सभागार में चल रहे जदयू छात्र संगम के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने मंच पर एक युवक ने चप्पल फेंक दी। चप्पल फेकने वाले का नाम चंदन तिवारी बताया जा रहा है ।इस घटना के तुरत बाद जदयू नेताओं ने युवक की जमकर पिटाई की और सुरक्षाबलों ने तुरत सीएम को सुरक्षा घेरे में ले लिया।

Bihar Cm Nitish Kumar Patna Slipper Thrown Youth Jdu Nda :

गनीमत यह रही कि मंच से दूर होने के कारण युवक का चप्पल मंच तक नहीं पहुंच सका। जिस वक्त यह घटना हुई उस वक्त मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह सहित अन्य बड़े नेता बापू सभागार में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हो रहे थे।

नीतीश पटना में कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद मंच पर बैठे हुए थे तभी उनको निशाना बनाते हुए वहां मौजूद एक युवक ने चप्पल फेंक दी। चप्पल फेंकने के बाद सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत युवक को हिरासत में ले लिया लेकिन इससे पहले वहां मौजूद जदयू नेताओं ने लड़के की जमकर धुनाई कर दी। जिस युवक ने इस घटना को अंजाम दिया है उसका नाम चन्दन बताया जा रहा है जो कि बिहार के ही औरंगाबाद का रहने वाला है।

बताया जा रहा है कि चंदन औरंगाबाद का रहनेवाला है और वह सवर्ण सेना का सदस्य है। युवक ने आरक्षण का विरोध करते हुए कहा कि इसकी वजह से बिहार के युवाओं का भविष्य अंधकार में चला गया है। युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है और इसकी वजह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं।

युवक ने कहा कि आखिर हम बेरोजगार जाएं तो कहां जाएं, क्योंकि हमारे सामने नौकरी की समस्या एक पहाड़ की तरह है। युवक ने नीतीश कुमार से गुहार लगाई कि उन्हें राज्य में आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए, ताकि बिहार के सभी युवा एक समान रूप से आगे बढ़ सकें।

बिहार। पटना के बापू सभागार में चल रहे जदयू छात्र संगम के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने मंच पर एक युवक ने चप्पल फेंक दी। चप्पल फेकने वाले का नाम चंदन तिवारी बताया जा रहा है ।इस घटना के तुरत बाद जदयू नेताओं ने युवक की जमकर पिटाई की और सुरक्षाबलों ने तुरत सीएम को सुरक्षा घेरे में ले लिया। गनीमत यह रही कि मंच से दूर होने के कारण युवक का चप्पल मंच तक नहीं पहुंच सका। जिस वक्त यह घटना हुई उस वक्त मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह सहित अन्य बड़े नेता बापू सभागार में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हो रहे थे। नीतीश पटना में कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद मंच पर बैठे हुए थे तभी उनको निशाना बनाते हुए वहां मौजूद एक युवक ने चप्पल फेंक दी। चप्पल फेंकने के बाद सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत युवक को हिरासत में ले लिया लेकिन इससे पहले वहां मौजूद जदयू नेताओं ने लड़के की जमकर धुनाई कर दी। जिस युवक ने इस घटना को अंजाम दिया है उसका नाम चन्दन बताया जा रहा है जो कि बिहार के ही औरंगाबाद का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि चंदन औरंगाबाद का रहनेवाला है और वह सवर्ण सेना का सदस्य है। युवक ने आरक्षण का विरोध करते हुए कहा कि इसकी वजह से बिहार के युवाओं का भविष्य अंधकार में चला गया है। युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है और इसकी वजह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं। युवक ने कहा कि आखिर हम बेरोजगार जाएं तो कहां जाएं, क्योंकि हमारे सामने नौकरी की समस्या एक पहाड़ की तरह है। युवक ने नीतीश कुमार से गुहार लगाई कि उन्हें राज्य में आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए, ताकि बिहार के सभी युवा एक समान रूप से आगे बढ़ सकें।