जल-जीवन-हरियाली को लेकर बिहार ने रचा इतिहास, बनायी गयी दुनिया की सबसे बड़ी मानव श्रृखंला

cm nithish kumar
जल-जीवन-हरियाली को लेकर बिहार ने रचा इतिहास, बनायी गयी दुनिया की सबसे बड़ी मानव श्रृखंला

पटना। जल-जीवन-हरियाली मिशन के साथ नशा मुक्ति, बाल विवाह रोकथाम और दहेज प्रथा उन्मूलन को लेकर बिहार ने इतिहास रचा है। जागरूकता अभियान के तहत रविवार को बिहार में मानव श्रृंखला बनाई गई है। तकरीबन 4.25 करोड़ लोगों की भागीदारी के साथ 16 हजार किमी से अधिक लंबी कतार बनाकर बिहार ने विश्व कीर्तिमान स्थापित किया है।

Bihar Created History On Water Life Greenery Worlds Largest Human Chain Created :

मानव श्रृंखला का मुख्य आयोजन पटना के गांधी मैदान में हुआ, जहां सीएम नीतीश कुमार की मौजूदगी में मानव श्रृंखला बनाई गई है। इस मौके पर डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी समेत अन्य लोग मौजूद थे। वहीं, इनके साथ ही बिहार के आला अधिकारियों का दल भी एक दूसरे का हाथ से हाथ जोड़े खड़े हुए था।

बता दें कि इसके पहले बिहार ने साल 2017 में नशा मुक्ति (शराबबंदी) अभियान को सफल बनाने के लिए विश्व की सबसे लंबी 11,292 किमी मानव श्रृंखला बनाई थी जो एक रिकॉर्ड था। वहीं, अपने ही इस रिकॉर्ड को बिहार सरकार ने वर्ष 2018 में दहेज प्रथा एंव बाल विवाह के खिलाफ 13654 किमी लंबी मानव श्रृंखला बनाकर तोड़ा था।

एक बार फिर 16 हजार किमी से अधिक लंबी कतार बनाकर बिहार रिकॉर्ड बना दिया। सीएम नीतीश कुमार ने मानव श्रृंखला को सफल बनाने के लिए बिहार के सभी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण पर दुनिया ने आज बिहार का दम देखा।

पटना। जल-जीवन-हरियाली मिशन के साथ नशा मुक्ति, बाल विवाह रोकथाम और दहेज प्रथा उन्मूलन को लेकर बिहार ने इतिहास रचा है। जागरूकता अभियान के तहत रविवार को बिहार में मानव श्रृंखला बनाई गई है। तकरीबन 4.25 करोड़ लोगों की भागीदारी के साथ 16 हजार किमी से अधिक लंबी कतार बनाकर बिहार ने विश्व कीर्तिमान स्थापित किया है। मानव श्रृंखला का मुख्य आयोजन पटना के गांधी मैदान में हुआ, जहां सीएम नीतीश कुमार की मौजूदगी में मानव श्रृंखला बनाई गई है। इस मौके पर डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी समेत अन्य लोग मौजूद थे। वहीं, इनके साथ ही बिहार के आला अधिकारियों का दल भी एक दूसरे का हाथ से हाथ जोड़े खड़े हुए था। बता दें कि इसके पहले बिहार ने साल 2017 में नशा मुक्ति (शराबबंदी) अभियान को सफल बनाने के लिए विश्व की सबसे लंबी 11,292 किमी मानव श्रृंखला बनाई थी जो एक रिकॉर्ड था। वहीं, अपने ही इस रिकॉर्ड को बिहार सरकार ने वर्ष 2018 में दहेज प्रथा एंव बाल विवाह के खिलाफ 13654 किमी लंबी मानव श्रृंखला बनाकर तोड़ा था। एक बार फिर 16 हजार किमी से अधिक लंबी कतार बनाकर बिहार रिकॉर्ड बना दिया। सीएम नीतीश कुमार ने मानव श्रृंखला को सफल बनाने के लिए बिहार के सभी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण पर दुनिया ने आज बिहार का दम देखा।