गधे पर सवार होकर नामांकन करने वाले प्रत्याशी के खिलाफ एफआईआर, नामांकन भी रद्द

d

पटना। बिहार के जहानाबाद लोकसभा क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने के लिए एक गधे की सवारी करते हुए जाना एक प्रत्याशी पर भारी पड़ गया। उसके खिलाफ पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत नगर थाना में एक मामला दर्ज किया गया है।

Bihar Independent Candidate Takes Donkey Ride To File Nomination In Jehanabad :

जहानाबाद नगर अंचल अधिकारी सुनील कुमार साह ने बुधवार को बताया कि हुलासनगर इलाके के निवासी मणि भूषण शर्मा का जहानाबाद लोकसभा क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने के लिए गत सोमवार को एक गधे की सवारी कर जाना उक्त अधिनियम का उल्लंघन था इसलिए उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी की गई है।

पुलिस जांच कर कार्रवाई करेगी। शर्मा ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल किया था। नामांकन पत्रों की जांच के दौरान तकनीकी आधार पर उनके नामांकन को रद्द कर दिया गया है। जहानाबाद लोकसभा सीट पर सातवें और अंतिम चरण के तहत बिहार की अन्य सात लोकसभा सीटों के साथ आगामी 19 मई को मतदान होना है।

इस सीट के लिए नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन गत सोमवार था। नामांकन दाखिल करने जहानाबाद समाहरणालय पहुंचे शर्मा ने कहा था कि वे गधे की सवारी कर मुख्यधारा के उन राजनेताओं को आईना दिखाना चाहते हैं जो आम लोगों को गधे की तरह बेवकूफ समझते हैं।

पटना। बिहार के जहानाबाद लोकसभा क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने के लिए एक गधे की सवारी करते हुए जाना एक प्रत्याशी पर भारी पड़ गया। उसके खिलाफ पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत नगर थाना में एक मामला दर्ज किया गया है। जहानाबाद नगर अंचल अधिकारी सुनील कुमार साह ने बुधवार को बताया कि हुलासनगर इलाके के निवासी मणि भूषण शर्मा का जहानाबाद लोकसभा क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने के लिए गत सोमवार को एक गधे की सवारी कर जाना उक्त अधिनियम का उल्लंघन था इसलिए उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी की गई है। पुलिस जांच कर कार्रवाई करेगी। शर्मा ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल किया था। नामांकन पत्रों की जांच के दौरान तकनीकी आधार पर उनके नामांकन को रद्द कर दिया गया है। जहानाबाद लोकसभा सीट पर सातवें और अंतिम चरण के तहत बिहार की अन्य सात लोकसभा सीटों के साथ आगामी 19 मई को मतदान होना है। इस सीट के लिए नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन गत सोमवार था। नामांकन दाखिल करने जहानाबाद समाहरणालय पहुंचे शर्मा ने कहा था कि वे गधे की सवारी कर मुख्यधारा के उन राजनेताओं को आईना दिखाना चाहते हैं जो आम लोगों को गधे की तरह बेवकूफ समझते हैं।