बिना दरवाजा खटखटाये घर में घुसा युवक, पंचायत ने थूक चाटने की सुनाई सजा

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में पंचायत ने एक तुगलकी फरमान सुनाते हुए एक युवक को थूक चाटने की सजा सुना डाली। युवक की गलती महज इतनी थी कि उसने बिना दरवाजा खटखटाए एक दबंग के घर में प्रवेश कर लिया। भरी पंचायत में न केवल महिलाओं द्वारा चप्पल से युवक को पिता गया बल्कि जमीन पर थूककर चाटने की सजा सुनाई गई।

मामले का वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने मुखिया सहित आठ लोगों के खिलाफ नूरसराय थाने में मामला दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक, अजयपुर गांव निवासी 55 वर्षीय अजय मांझी गुरुवार को गांव के ही दबंग देवेन्द्र यादव के घर में बिना दरवाजा खटखटाए प्रवेश कर गया, जिस वजह से देवेन्द्र का परिवार नाराज हो गया।

{ यह भी पढ़ें:- सामने आया सुशील मोदी के बेटे की शादी का मेन्यू }

पीड़ित का कहना है कि मुखिया दयानंद मांझी ने देवेन्द्र के कहने पर गांव में पंचायत बुलाई और भरी पंचायत में उसकी महिलाओं से चप्पल द्वारा पिटाई कराई गई तथा जमीन पर थूक कर उसे चटवाया गया। पीड़ित का आरोप है कि इसके बाद इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस सक्रिय हुई। नालंदा के पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार पोरिका ने बताया कि पीड़ित मांझी के बयान पर नूरसराय थाना में इस मामले की एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जिसमें मुखिया दयानंद मांझी, देवेन्द्र यादव सहित आठ लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- CM नीतीश के उद्घाटन से पहले ही टूट गया करोड़ों का बांध, RJD बोली- नया 'घोटाला' }

फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। उन्होंने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

हो चुकी है मजदूरों की हत्या

बताते चलें कि इसी साल मार्च में नालंदा जिले में दो मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना दीपनगर थाना इलाके के नदियावा गांव की थी। इस मामले में दलितों ने रात में बालू उठाने से मना कर दिया था। इस बात से आरोपी मुकेश इतना नाराज हो गया कि उसने दोनों को गोली ही मार दी। इस मामले में दोनों मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई थी।

{ यह भी पढ़ें:- बाढ़ से बेहाल बिहार: मृतकों की संख्या हुई 514, सीएम नीतीश ने की समीक्षा बैठक }

Loading...