बिहार में इंसेफलाइटिस व खसरा का टीका लगने के बाद 2 बच्चों की मौत

मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में औराई प्रखंड के पटोरी गांव में खसरा और जापानी इंसेफेलाइटिस (जेई) का टीका लगने के बाद दो बच्चों की मौत हो गई, जबकि 10 से अधिक बच्चे बीमार हो गए। इस घटना के बाद स्वास्थ्य विभाग ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।




स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि शुक्रवार को पटोरी गांव में मिजिल्स व जेई की रोकथाम के लिए बच्चों को टीका लगाया गया था। इस बीच शाम होते-होते सभी बच्चों को उल्टी व दस्त शुरू हो गया तथा कई बच्चों को बुखार की शिकायत की गई। इस बीच राजाबाबू दास के बेटे रंजीत दास (नौ माह) और गनौर सहनी के बेटे सोनू कुमार (डेढ़ वर्ष) की रात में मौत हो गई।

इधर, मुजफ्फरपुर की सिविल सर्जन ललिता सिंह ने शनिवार को बताया कि मेडिकल टीम को प्रभावित गांव रवाना कर दिया गया है तथा इस मामले की जांच के लिए एक टीम गठित की गई है। जांच के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल सकेगा।




उन्होंने बताया कि बीमार बच्चों को मुजफ्फरपुर श्रीकृष्ण मेमोरियल कॉलेज अस्पताल (एसकेएमसीएच) में भर्ती कराया गया। उल्लेखनीय है कि गर्मी शुरू होने के बाद इस क्षेत्र में जेई बीमारी का प्रकोप प्रारंभ हो जाता है। हर साल इस बीमारी से कई बच्चों की मौत हो जाती है।