बिहार में सुबह 10 बजे जेडीयू-बीजेपी सरकार का शपथ ग्रहण, नीतीश फिर से बनेंगे मुख्यमंत्री

बिहार में चार साल बाद बीजेपी की सत्ता में वापसी होगी. महागठबंधन टूटने के बाद नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनेगी. आधी रात के करीब नीतीश कुमार ने राजभवन में राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया. नीतीश के साथ भावी डिप्टी सीएम सुशील मोदी, जीतनराम मांझी, ललन यादव, मंडल पांडे मौजूद रहे.

जेडीयू विधायक दल की बैठक के बाद नीतीश कुमार ने बिहार के सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. बिहार के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी ने नीतीश कुमार का इस्तीफा मंजूर कर लिया. इस्तीफा देने के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि हमने गठबंधन धर्म का पालन किया. इस माहौल में मेरे लिए काम करना मुश्किल हो गया था. मैंने कभी किसी का इस्तीफा नहीं मांगा. अंतरात्मा की आवाज के बाद इस्तीफा दिया. मैं अपना रुख नहीं बदल सकता.

{ यह भी पढ़ें:- गुजरात में भाजपा को तगड़ा झटका, खरीद फरोख्त के आरोपों से घिरी पार्टी }

नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण के समय में देर रात बड़ा बदलाव हुआ. छठी बार सीएम पद की शपथ लेने जा रहे नीतीश का शपथ ग्रहण अब शाम पांच बजे के बजाए सुबह 10 बजे होगा. बिहार बीजेपी के अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा कि सुबह सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी का शपथ ग्रहण होगा, बाकी मंत्रीमंडल के शपथ ग्रहण को लेकर बाद में जानकारी दी जाएगी. शपथग्रहण के समय में इस बदलाव को इसलिए अहम माना जा रहा है क्योंकि राज्यपाल ने आरजेडी को मुलाकात के लिए सुबह 11 बजे का टाइम दिया है.

{ यह भी पढ़ें:- इस महीने तीसरी बार गुजरात पहुंचे पीएम मोदी, इन योजनाओं का हुआ शुभारंभ }