1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. परीक्षा में नहीं मिली सफलता तो बन गया फर्जी आईपीएस, ऐसे खुली पोल

परीक्षा में नहीं मिली सफलता तो बन गया फर्जी आईपीएस, ऐसे खुली पोल

By आशीष यादव 
Updated Date

पटना। बिहार पुलिस ने एक फर्जी आईपीएस को गिरफ्तार किया है। पकड़े जाने के बाद उसने जो खुलासे किए उसने सबको चौंका दिया। गिरफ्तार आरोपी खुद को एसएसपी बताकर पुलिस के साथ ही आम नागरिकों को धमकाता था। फिलहाल पुलिस ने उसके पास से एक फर्जी कार्ड भी बरामद किया है। जिसपर उसका नाम तिवारी बीएस, रैंक ओएसडी ग्रेड वन सेन्ट्रल पावर्ड और कैडर एजीएमयूटी लिखा है।

एसपी विशाल शर्मा ने कहा कि बनमनखी निवासी बमशंकर तिवारी खुद को 2013 बैच का आईपीएस अधिकारी लोगों पर रौब गांठता था। शुक्रवार शाम उसने इलाके के एक भिखारी की बेहरमी से पिटाई कर दी। आसपास के लोगों ने इसका विरोध किया तो आरोपी ने खुद को उत्तराखंड का एसएसपी बताकर लोगों को धमकाना शुरु कर दिया।

इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। स्थानीय लोगों ने बताया कि आरोपी भिखारी को वह आतंकवादी और पाकिस्तान का एजेंट बता रहा था। एसपी विशाल शर्मा ने फर्जी आईपीएस के फेसबुक की जांच की तो उसमें भी उसने पुलिस का वर्दी पहनकर कई पुलिसकर्मियो के साथ फोटों खिचवाई थी। पूछताछ में उसने बताया कि उसने सिविल की परीक्षा दी थी, जिसमें सफल नहीं हो सका। जिसके बाद वो फर्जी आईपीएस बन गया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...