1. हिन्दी समाचार
  2. बिहार
  3. बिहार: कोरोना से हुई मौत के आंकड़े में जमकर हुई हेराफेरी, नीतीश सरकार ने माना 9375 लोगों की हुई मौत

बिहार: कोरोना से हुई मौत के आंकड़े में जमकर हुई हेराफेरी, नीतीश सरकार ने माना 9375 लोगों की हुई मौत

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में बिहार में मौत के आंकड़ों में जमकर हेराफेरी हुई है। लोग इसको लेकर आशंका जाहिर कर रहे हैं। इसको लेकर पटना हाईकोर्ट ने कई बार सरकार को लताड़ लगाई है। बक्सर में गंगा किनारे लाशें मिलने का मामला हो या पटना के श्मशान घाटों पर जल रही लाशों की संख्या..हर बार सरकारी आंकड़े संदेह के घेरे में थे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Bihar There Was A Lot Of Manipulation In The Death Toll Due To Corona Nitish Government Admitted That 9375 People Died

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में बिहार में मौत के आंकड़ों में जमकर हेराफेरी हुई है। लोग इसको लेकर आशंका जाहिर कर रहे हैं। इसको लेकर पटना हाईकोर्ट ने कई बार सरकार को लताड़ लगाई है। बक्सर में गंगा किनारे लाशें मिलने का मामला हो या पटना के श्मशान घाटों पर जल रही लाशों की संख्या..हर बार सरकारी आंकड़े संदेह के घेरे में थे।

पढ़ें :- बिहार: महंगाई के खिलाफ आरजेडी कार्यकर्ताओं का पोस्टर वार, दामों को लिखते हुए किया सरकार पर कटाक्ष

आखिरकार, अब सरकार ने ही इससे पर्दा उठाया। इन सबके बीच बिहार की नीतीश सरकार ने माना है कि कोरोना से हुई मौत के आंकड़े में हेरफेर हुई है। बिहार के स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने बुधवार को बताया कि अब तक मौतों का जो आंकड़ा 5424 बताया गया था, वो गलत है जबकि असली आंकड़ा 9375 (7 जून तक) है।

दरअसल,बिहार में कोरोना से हो रही मौतों को लेकर उठ रहे सवालों से तंग आकर 18 मई को  राज्य सरकार ने आंकड़ों की जांच कराने का निर्णय लिया था। इसके लिए दो तरह की टीमें बनाई गई थीं, जिनकी जांच रिपोर्ट में ये लापरवाही सामने आई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X