सुशासन बाबू का हवाई सर्वे रद्द, अब लू पीड़ितों से मिलने जायेंगे अस्पताल

nitish kumar
सुशासन बाबू का हवाई सर्वे रद्द, अब लू पीड़ितों से मिलने जायेंगे अस्पताल

पटना। बिहार में चमकी ​बुखार का कहर जारी है। इस बीच वहां पर लू लगने से भी मौत का आकंड़ा बढ़ता जा रहा है। सुशासन बाबू के राज्य में चमकी बुखार और लू को लेकर हाहाकर मचा हुआ है लेकिन वह इस पर चुप्पी साधे हुए हैं। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नवाद और गया का प्रस्तावित हवाई सर्वे रद्द कर दिया है।

Bihars Chief Minister Nitish Kumar Canceled Air Survey :

बताया जा रहा है कि अब वह लू पीड़ितों से मिलने के लिए अनुग्रह नारायण मेमोरियल मेडिकल कॉलेज जायेंगे। यहां नी​तीश कुमार मरीजों से मुलाकात करने के साथ ही डॉक्टरों और अधिकारियों से बातचीत करेंगे।  बिहार में चमकी से बुखार और लू दोनों की दोहरी मार झेल रहा है। चमकी बुखार से अब तक 135 बच्चों की मौत हो चुकी है, वहीं 24 घण्टे में 12 लोगों की लू लगने से जान चली गयी है।

राज्य में अब तक लू के कारण पिछले तीन दिनों में मरने वालों की तादाद 90 पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि लू के कारण सबसे ज्यादा औरंगाबाद, मया, नवादा और जुमई जिलों मं मौते हुई हैं। वहीं सीएम नीतीश कुमार डिप्टी सीएम सुशील मोदी श्रीकृष्णा मेमोरियल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का दौरा किया था, जहां चमकी बुखार के कारण सबसे ज्यादा बच्चों की मौत हुई है। यहां सीएम पीड़ितों और उनके परिजनों से मिले। इस दौरान उन्हें प्रदर्शनकारियों के गुस्से का सामना भी करना पड़ा था।

पटना। बिहार में चमकी ​बुखार का कहर जारी है। इस बीच वहां पर लू लगने से भी मौत का आकंड़ा बढ़ता जा रहा है। सुशासन बाबू के राज्य में चमकी बुखार और लू को लेकर हाहाकर मचा हुआ है लेकिन वह इस पर चुप्पी साधे हुए हैं। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नवाद और गया का प्रस्तावित हवाई सर्वे रद्द कर दिया है। बताया जा रहा है कि अब वह लू पीड़ितों से मिलने के लिए अनुग्रह नारायण मेमोरियल मेडिकल कॉलेज जायेंगे। यहां नी​तीश कुमार मरीजों से मुलाकात करने के साथ ही डॉक्टरों और अधिकारियों से बातचीत करेंगे।  बिहार में चमकी से बुखार और लू दोनों की दोहरी मार झेल रहा है। चमकी बुखार से अब तक 135 बच्चों की मौत हो चुकी है, वहीं 24 घण्टे में 12 लोगों की लू लगने से जान चली गयी है। राज्य में अब तक लू के कारण पिछले तीन दिनों में मरने वालों की तादाद 90 पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि लू के कारण सबसे ज्यादा औरंगाबाद, मया, नवादा और जुमई जिलों मं मौते हुई हैं। वहीं सीएम नीतीश कुमार डिप्टी सीएम सुशील मोदी श्रीकृष्णा मेमोरियल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का दौरा किया था, जहां चमकी बुखार के कारण सबसे ज्यादा बच्चों की मौत हुई है। यहां सीएम पीड़ितों और उनके परिजनों से मिले। इस दौरान उन्हें प्रदर्शनकारियों के गुस्से का सामना भी करना पड़ा था।