मुजफ्फरनगर की तरह बिजनौर को भी बर्बाद करने चाहते सत्ताधारीे: कटारिया

बिजनौर। मुजफ्फरनगर में आग लगाने वाले लोग बिजनौर जिले को भी बर्बाद करना चाहते हैं। ये कतई नहीं होने दिया जाएगा। यह बात भाजपा के प्रदेश महामंत्री अशोक कटारिया ने सिविल लाइन स्थित एक होटल में पत्रकार वार्ता करते हुए कही। उन्होंने कहा है कि पेदा में लड़कियों से छेड़छाड़ को लेकर दुखद घटना हुई। इस घटना में निर्दोष लोग जेल भेजे गए। एक साथ 29 लोग इस मामले में नामजद करा दिए गए। क्या कोई मान सकता है पेदा की घटना में 29 लोग शामिल होंगे। पेदा की घटना में बेगुनाह लोगों को फंसाया जा रहा है।



ऐसे लोगों को ही जेल भेजा जा रहा है, जिनका इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है। प्रशासन का एकतरफा कार्रवाई करना अच्छी बात नहीं है। जो भी दोषी हैं उन्हें सजा मिले, लेकिन निर्दोषों को किसी भी सूरत में नहीं फंसाया जाए। उन्होंने कहा कि सूबे में सपा की सरकार है। बिजनौर विधायक रुचि वीरा बेवजह भाजपा पर कोई आरोप न लगाए। विधायक एकतरफा बात कर समाज में ज्वार पैदा न करें। बिजनौर जिला सुंदर है। जिले को ऐसा ही रहने दें। उन्होंने कहा कि जिस तरह पेदा घटना में निर्दोषों को फंसाया जा रहा है।

ऐसे ही मुजफ्फरनगर में निर्दोष को फंसाने पर घटना हुई थी। ऐसी घटनाओं में नाजायज नाम कतई नहीं आना चाहिए। उन्होंने कहा निर्दोषों को फंसाने से ही फसाद होते हैं। फसाद जीवन को बर्बाद कर देते हैं। पेदा की घटना में नाबालिगों तक को फंसाया गया है। भाजपा के नेता गांव में पहुंचकर निर्दोष व नाबालिगों की सूची बनाएंगे। प्रेसवार्ता में प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राममोहन अग्रवाल, कविता चैधरी, मानव सचदेवा, नीरज शर्मा व डा. नवनीत गर्ग आदि मौजूद थे।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट