सिचाई विभाग की लापरवाही से किसानो की फसल बर्बाद

Bijnor News 209

बिजनौर/नगीना। तहसील में प्रर्याप्त वर्षा न होने के कारण क्षेत्र के किसानों की तैयार फसलों को नहर का पानी न मिलने के कारण स्थानीय किसानों में नहर विभाग के अधिकारियों तथा कर्मचारियों के प्रति भारी रोष व्याप्त है किसानों का कहना है कि कि यदि वर्षा नहीं हुई तो किसानों की धान की तैयार फसल को भारी नुकसान होने की संभावना बढती जा रही है। उधर नहर शाखा पुरैनी तथा शाखा किरतपुर में नहर विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से पानी ना छोड़े जाने से सिंचित क्षेत्रों में धान की फसल को भारी नुकसान होने की आशंका बढ़ती जा रही है जिस कारण क्षेत्र के किसानों में सिंचाई विभाग के प्रति भारी रोष व्याप्त है।




मंगलवार को क्षेत्र के दर्जनों किसान सिंचाई विभाग के उपखण्ड नगीना कार्यालय पर पहुंचे और जिलेदार का चार्ज संभाल रहे अमीन अमित कुमार से नहर शाखा पुरैनी में पानी छोडने की शिकायत की किंतु अमित कुमार ने अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि आप एसडीओ सिंचाई विभाग से वार्ता करें। जिनको किसान लईक अहमद जैदी तथा अन्य किसानों ने पानी ना छोड़े जाने की शिकायत की एसडीओ हिमांशु धारिया के पास धामपुर तथा नगीना नहर विभाग का चार्ज है। उन्होंने फोन पर किसानों के नाम पूछे और नहर में पानी न आने पर अपने अधिनस्थों से बात कर कार्यवाही करने का आश्वासन देकर पल्ला झाड़ दिया। उधर क्षेत्र के किसानों ने आरोप लगाया कि एसडीओ साहब को हमने कभी नगीना कार्यालय पर नहीं देखा और ना ही जेई विपिन कुमार विभागीय कार्यालय पर रहते वो नजीबाबाद रहकर नगीना सर्विस करते हैं ऐसे अधिकारियों को जो कि मुख्यालय पर ना रहकर सर्विस कर रहे हैं इनको बर्खास्त क्यों नहीं किया जाता।

अमित कुमार जो कि अमीन है किंतु उन्हें जिलेदार का चार्ज भी देखा है। क्षेत्र के किसानों ने सरकार से मांग की है कि ऐसे अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करें किसानों का मानना है कि जब कर्मचारी या अधिकार अपने कार्यालय पर नहीं होगा तो वह शिकायत किससे करें और उनकी समस्या का समाधान कौन करेगा। सपा की इस सरकार में कोई अधिकारी पीडिघ्तों की फरियाद नहीं सुन रहा है और समस्याओं के अंबार होंगे मजदूर तथा किसान फरियाद लेकर दरदर भटक रहे हैं और सुनने वाला कोई नहीं।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट




बिजनौर/नगीना। तहसील में प्रर्याप्त वर्षा न होने के कारण क्षेत्र के किसानों की तैयार फसलों को नहर का पानी न मिलने के कारण स्थानीय किसानों में नहर विभाग के अधिकारियों तथा कर्मचारियों के प्रति भारी रोष व्याप्त है किसानों का कहना है कि कि यदि वर्षा नहीं हुई तो किसानों की धान की तैयार फसल को भारी नुकसान होने की संभावना बढती जा रही है। उधर नहर शाखा पुरैनी तथा शाखा किरतपुर में नहर विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से…