कौमी एकता का सपा में विलय का फैसला हमारे नेता जी का: अमर सिंह





बिजनौर। मुख्तियार अंसारी की पार्टी कौमी एकता का सपा में विलय का फैसला सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह का है। इसलिए इस पर कोई मतभेद की बात नहीं है। अखिलेश यादव अपने पिता मुलायम सिंह की सभी बात मानते हैं। यह बात सपा के राष्ट्रीय महासचिव अमर सिंह ने कही। वह शनिवार शाम नजीबाबाद जाते प्रदर्शनी चौक पर चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के लिए रूके थे।

उन्होंने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि कौमी एकता दल का सपा में विलय का निर्णय मुलायम सिंह यादव का है। दुनिया में कोई ऐसे बाप-बेटे नहीं है, जिनमें अनबन न होती हो। मुलायम सिंह यादव व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बीच कोई अनबन नहीं है। उन्होंने कहा केरल में माकपा की सरकार है। पार्टी के दो नेताओं के बीच विवाद के चलते लड़ाई सड़कों तक आ गई थी। वहां भी सरकार माकपा की बनी है।

अमर सिंह ने कहा कि यूपी में भी अगली सरकार सपा की बनेगी। सपा के अलावा किसी और दल की सरकार नहीं बन पाएगी। इस मौके पर सपा के संजय गहलोत, पूर्व जिलाध्यक्ष राशिद हुसैन, अब्दुल सलाम, अखलाक पप्पू, मुफीज आलम प्रधान, यादराम चंदेल व कामेंद्र तोमर आदि मौजूद रहे।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट



Loading...