शिविर में कुलसचिव ने कहा युवाओं को आत्मचिंतन करने की जरूरत

बिजनौर। युवाओं को आत्मचिंतन करने की जरूरत है। यह बात देव संस्कृति विश्व विद्यालय के कुलसचिव ने अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से शहर के एक बैंक्वेट हाल में आयोजित युवा चेतना शिविर में कही। उन्होंने कहा की भारत देश विश्व का सबसे युवा देश है। युवा जिस रास्ते पर चलता है उसकी रास्ते में वृद्ध भी चलते है। युवा सफल होगा तो देश भी सफल होगा।




देश का युवा शालिन, अनुशासित और सेवा भाव रखने वाला होना चाहिए। युवा वह होता है जिस पर सभी समस्या का समाधान होता है। देश का युवा लक्ष्य विहिन हो गया है और अपने लक्ष्य को भूलता जा रहा है। युवा तेजी से नशे का प्रवाह में बह रहा है। डीएम जगतराज ने कहा कि समाज में सार्थक परिवर्तन लाने की जिम्मेदारी युवाओं की है। इस मौके पर युवाओं से महापुरुषों के आदर्शों पर चलने का आह्वान किया गया।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट