दुष्कर्म के बाद किशोरी की हत्या को आत्माहत्या का रुप देने का प्रयास

बिजनौर। किशोरी के साथ बलात्कार की घटना को अंजाम देने के बाद आरोपियों ने उसकी हत्या कर दी और हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए शव को पंखे से लटका दिया। घटना से मृतका के परिजनों में कोहराम मच गया। मृतका के पिता ने दो आरोपियों को नामजद करते हुए सात के खिलाफ पुलिस को तहरीर सौंपकर कार्यवाही की मांग की है।

शहर के रामलीला मैदान के पास स्थित काशीराम कालोनी निवासी गजराज सिंह पुत्र विष्णु सिंह मेेेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का पालन पोषण करता है। उसके अनुसार सोमवार को वह मजदूरी करने के लिए गया था और उसकी पत्नी बड़ी बेटी के घर ससुराल गई थी। घर पर उसकी 15 वर्षीय दूसरी बेटी व 13 वर्षीय बेटा विक्की मौजूद थे। गजराज का आरोप है कि रात्रि करीब आठ बजे कालोनी का ही अजीम तथा हबीब अपने पांच साथियों के साथ उसके घर आयेेेेेेे और बेटी के साथ जोर जबरदस्ती करने लगे। इसी बीच उसका बेटा वहां से भागकर रामलीला चैराहे पर आया और वहां पर उससे पूरी बात बताई।




जब वह घर गया तो उन्होंने देखा कि उसकी बेटी का शव दुपट्टे से पंखे से लटका हुआ था। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। गजराज का आरोप है कि अजीम व हबीब ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसकी बेटी के साथ बलात्कार किया और फिर उसकी हत्या कर दी। हत्या को आत्महत्या का रूप देने का प्रयास करते हुए शव को पंखे से लटका दिया। गजराज ने घटना की तहरीर पुलिस को सौंपकर कार्यवाही की मांग की है।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट