हत्या के आरोप में गांव के पांच लोगो पर मुकदमा दर्ज, पुलिस जांच में जुटी

बिजनौर/नगीना। सपा नेता के भाई की हुई 17-18 की रात्रि में हुई हत्या के बाद पांच लोगों के विरुद्ध मुकदमा देर शाम दर्ज कर लिया गया है। कल दयाराम सैनी जो सपा के जिला सचिव भी हैं के छोटे भाई मलखान सिंह 42 वर्षै की हत्या कर दी गयी थी और मलखान के शव को बैठक में एक प्लास्टिक के पाइप के सहारे खड़ा कर फरार हो गये थे। मलखान सिंह का पुलिस ने पंचनामा भरवाकर शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया था।

पूर्व प्रधान दयाराम सैनी के मुताबिक उनका 42 वर्षीय भाई मलखान सिंह सैनी प्रांतीय रक्षक दल पीआरडी का जवान था। सोमवार की रात को बैठक में अकेला सोया हुआ था। मंगलवार की सुबह मलखान का शव एक पाइप के सहारे खड़ा देखा तो हक्काबक्का रह गई और शोर मचाने पर परिवार तथा अड़ोस पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे और शव को उतारा। सूचना पर पूरा गांव इकऋा हो गया परिवार सहित ग्रामवासियों में इस बेदर्दी से हुए कतल से कोहराम मच गया। मृतक के बड़े भाई दयाराम सैनी ने गांव के निपेन्द्र, सोनू, धर्मवीर, नन्हें तथा शुभम के खिलाफ हत्या की नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है। थाना प्रभारी नाथीराम पवार ने बताया कि घटना रिपोर्ट दर्ज कराई है तथा घटना की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही कार्यवाही की जायेगी।





पूर्व प्रधान तथा सपा के जिला सचिव दयाराम सिंह सैनी का कहना है कि हत्यारोपी उनकी हत्या करने के इरादे से आये थे लेकिन जब वे नहीं मिले तो उन्होंने बैठक में सो रहे छोटे भाई मलखान सिंह की हत्या कर शव को पाइप के सहारे खड़ा कर फरार हो गये। दयाराम का कहना है कि में दो दिन पूर्व इलाहाबाद हाईकोर्ट में ग्राम समाज की ग्राम समाज की भूमि पर चल रहे टंकी के विवाद के मामले में मुकदमे की पैरवी को गया हुआ था। वो सुबह ही घर पहुंचे। दयाराम सिंह का कहना है कि हत्यारोपियों ने बैठक में भाई को अकेला देख मौके का फायदा उठाते हुए भाई की हत्या कर दी। दयाराम का कहना है कि एक माह पूर्व उन्हें भी फोन द्वारा भी जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है। इस संबंध में नगीना पुलिस को मोबाइल नंबर समेत घटना की सूचना दे दी गयी थी।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट