अजब संयोग, 22 अक्टूबर को जन्म, 22 को शादी और 22 अक्टूबर को ही मौत

बिजनौर/नहटौर। पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन ने एक शोकसभा आयोजित कर नगक के वरिष्ठ पत्रकार डॉ. शहबाज अलीम की बड़ी बहन शहाना जमाल की सड़क दुर्घटना में हुई मौत पर रंजोगम का इजहार करते हुए दो मिनट का मौन रखा व दिवंगत आत्मा की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना की।



बुधवार को मौहल्ला जोशियान स्थित पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन के कार्यालय पर आयोजित शोकसभा में स्थानीय पत्रकार डॉ. शहबाज अलीम की बड़ी बहन शहाना जमाल के निधन पर शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। शोक सभा में पत्रकार डॉ सुशील शर्मा ने बताया कि यह एक अद्भत संयोग है कि मृतका शहाना का जन्म 22 अक्टूबर 1967 में हुआ तथा 22 अक्टूबर 1989 को नजीबाबाद के ग्राम कल्हेड़ी निवासी एडवोकेट मौ.समी से उनका निकाह हुआ! ईश्वर ने उनकी जिन्दगी को 22 अक्टूबर से ऐसा जोड़ा कि उनकी मौत भी 22 अक्टूबर 2016 को ही उस समय हुई जब वह अपने पति एड. मौ. समी के साथ पुत्र की शादी के लिए हरेवली में लड़की देखने जा रही थी कि अचानक उन्हें चक्कर आया और वह बाइक से गिर गई!




सिर सड़क से टकराने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। शोकसभा में जहीन अंसारी, मा. अकील, विपिन वर्मा, आविद अंसारी, देवेन्द्र चौधरी, मा.महकार सिंह, अकबर अली, अ.कलाम, जफर इकबाल, डॉ. शहबाज अलीम, जहाँगीर जैदी, डॉ. जमशेद आलम, पिंटू जोशी, जैनुल अंसारी, सोबिन्द्र प्रजापति, मदनपाल चौहान, रियाजुद्दीन, समसुद्दीन, जियाउल हक अंसारी आदि पत्रकार मौजूद रहे।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

बिजनौर/नहटौर। पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन ने एक शोकसभा आयोजित कर नगक के वरिष्ठ पत्रकार डॉ. शहबाज अलीम की बड़ी बहन शहाना जमाल की सड़क दुर्घटना में हुई मौत पर रंजोगम का इजहार करते हुए दो मिनट का मौन रखा व दिवंगत आत्मा की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना की। बुधवार को मौहल्ला जोशियान स्थित पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन के कार्यालय पर आयोजित शोकसभा में स्थानीय पत्रकार डॉ. शहबाज अलीम की बड़ी बहन शहाना जमाल के निधन पर शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि…
Loading...