रजिस्ट्री कार्यालय की भ्रष्टाचारी से पिता को मृत दिखाकर कराया बैनामा

बिजनौर/नहटौर। एक व्यक्ति ने अपने जीवित पिता को मृत दर्शाकर अराजी का बैनामा अपनी पत्नी के नाम कर दिया। जिसमें गांव के ही दो लोगों को गवाह भी बनाया गया। पीड़ीत वृद्व ने डीएम से लेकर सीएम तक शिकायत कर स्वंय को जीवित बताकर मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।




ग्राम खेड़ीजट निवासी 70 वर्षीय कैलाश सिंह पुत्र बुद्व सिंह के तीन पुत्र है। कैलाश सिंह ने 324 वर्गगज जमीन ग्राम के रघुनाथ सिंह और चमन सिंह से कई बर्ष पूर्व खरीदी थी। आरोप हैं कि कैलाश के एक पुत्र जसवंत सिंह ने एक दिंसबर 2014 अपने पिता कैलाश सिंह के जीवित होने के बाद भी मृत्यु के फर्जी कागजात बनाकर उक्त अराजी का बैनामा अपनी पत्नी क्रांति देवी के नाम कर दिया।




जिसमें गांव के ही मुकेश पुत्र भगवाना सिंह और हेमंत कुमार पुत्र मेहर सिंह को गवाह बनाया गया। पीड़ीत कैलाश सिंह ने बताया जमीन का फर्जी बैनामा कर उस पर दिल्ली की किसी कम्पनी से दो लाख का लोन भी ले लिया। लोन रिकवरी के लिये नोटिस आने पर उसे जमीन का फर्जी बैनामा होने का पता चला।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट