डीएम को व्यापारियों ने अग्निकांड को लेकर ज्ञापन सौंपा

बिजनौर/नगीना। दीपावली की शाम लगी मौहम्मद अनीस के बान, रस्सी तथा प्लास्टिक के पांच गोदामों में भीषण आग से करोड़ों रुपयों के नुकसान को लेकर कल व्यापार मंडल उत्तर प्रदेश की नगीना शाखा के पदाधिकारियों ने एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी नगीना को सौंपकर सरकार से कुछ मांगे रखी।




ज्ञापन में कहा गया कि नगीना फायर स्टेशन पर आग बुझाने के लिये मात्र एक गाड़ी है वो भी पुरानी और उसके पानी के पाइप भी फटे हुए हैं तथा एक लाख से भी अधिक आबादी वाले नगीना नगर में आग बुझाने वाली छोटी गाडियां भी होनी चाहिए ताकि वो तंग गलियों में जाकर भी आग बुझा सकें तथा एक आग बुझाने वाली गैस की गाड़ी भी सरकार नगीना फायर स्टेशन को उपलब्ध कराये। व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों ने अपनी दूसरी मांग में ज्ञापन में कहा कि नगर पालिका द्वारा बनाई गई सड़कों में जगह जगह बने पानी के ट्रीटमेंटों को सड़कें बनाने के बाद दबा दिया गया है जिस कारण फायर सर्विस को पानी समय पर उपलब्ध नहीं हो पाता है व्यापार मण्डल ने मांग कि है कि पालिका उन्हें तत्काल खुलवाये जाये और समय समय पर उनकी जांच सुनिश्चित की जाये। इस अग्निकांड से पहले भी कई भीषण अग्निकांड नगीना में हो चुके हैं क्वालिटी फर्नीचर हाउस में भी भीषण आग लगी जिसमें 50 लाख से भी अधिक का कीमती फर्नीचर जलकर राख हो गया था।




सरकार द्वारा उसे भी अभी तक मुआवजा नहीं दिया है सरकार पूरी तरह इन समस्याओं को लेकर उदासीनता बरत रही है। व्यापार मण्डल ने सरकार पर भी ज्ञापन से हटकर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार में बैठे आला अधिकारी जनता के प्रति पूरी तरह उदासीनता बरत रहे हैं इसी कारण सपा सरकार जनता की नजरों में बदनाम हो रही है। ज्ञापन पर नगर के व्यापार मण्डल नगीना के अध्यक्ष विकास मल्होत्रा तथा कार्यकारिणी के अनेक लोगों के हस्ताक्षर मौजूद है।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट