नन्हे-मुन्ने बच्चों ने शिक्षा का उजियारा फैलाने का संदेश दिया

बिजनौर। सैंट मैरीस स्कूल का वार्षिकोत्सव धूमधाम के साथ मनाया गया। नाटक ज्ञान का दीप जलाओं के माध्यम से नन्हे-मुन्ने बच्चों ने बाल मजदूरी पर कटाक्ष करते हुए शिक्षा का उजियारा फैलाने का संदेश दिया। बच्चों के नृत्य व अन्य प्रस्तुतियों को भी खूब सराहा गया। पूरा कार्यक्रम स्थल अतिथियों की तालियों से गूंजता रहा।

सैंट मैरीस स्कूल(किन्डर गार्डन) का वार्षिकोत्सव स्कूल परिसर में स्थित एडिटोरियम रूम में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। दो दिवसीय कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक अजय साहनी, फादर जोसफ, सिस्टर फौंसी, सिस्टर जिन्सिका व सिस्टर ब्रसमैरी आदि ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम की शुरूआत में स्कूली बच्चों ने वैलकम गीत व नृत्य प्रस्तुत कर अतिथियों का स्वागत किया। बच्चों ने अंग्रेजी गाने श्आई एम सो हैप्पी्य पर शानदार प्रस्तुती देकर सबका मन मोह लिया। इसके बाद बच्चों ने श्ज्ञान का दीप जलाओ नामक नाटक से समाज के उस चेहरे को दिखाया, जिसमें छोटे-छोटे बच्चों को शिक्षा दिलाने की जगह उनसे मजदूरी कराई जाती है।




इन बच्चों को दी जाने वाली यातनाओं को भी नन्हों-मुन्नों ने बखूबी दर्शाया। छोटे-छोटे बच्चों ने इस नाटक के माध्यम से शिक्षा का दीप जलाने का संदेश दिया। बच्चों की ओर से दी गई देश भक्ति से ओत-प्रोत प्रस्तुती को सब अतिथियों ने खूब सराहा। बच्चों ने फौजी व भारत मां का स्वरूप धारण कर देशभक्ति का संदेश दिया। इसके अलावा हास्य नाटक के माध्यम से सभी को गुदगुदाया। कार्यक्रम के अंत में फादर जोसफ व एसपी अजय साहनी ने छोटे-छोटे बच्चों की प्रस्तुतियों की सराहना करते हुए उनका हौसला अफजाई किया।




इन्होंने बच्चों को देश का भविष्य बताते हुए मेहनत व लगन के साथ पढ़ाई कर देश के लिए अहम योगदान देने के लिए प्रेरित किया। साथ ही अभिभावकों से बच्चों के लिए घर में पढ़ाई का माहौल तैयार करने के साथ ही स्कूल के स्टाफ का सहयोग करने की अपील की। इस मौके पर सैंट मैरीस का समस्त स्टाफ व सैकड़ों की संख्या में अभिभावकगण मौजूद रहे।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट