बैंकों पर आज भी रही भारी भरकम भीड़, वेतन आने से बैंकों की परेशानियां बढी

बिजनौर/नगीना। आज नगर के बैंकों पर 29 वें दिन सबसे अधिक भीड़ रही तथा लोगों में आक्रोश भी दिखा। आज कैनरा बैंक पर साढ़े दस बजे तक भी पुलिस की डयूटी ना पहुंचने पर काफी धक्कामुक्की रही और एक घंटे बाद पुलिस के पहुंचने पर शांति हुई। जब तक पुलिस नहीं आई महिलाओं को किसी ने भी बैंक के अंदर नहीं जाने दिया।




स्टेट बैंक आफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, सर्वयूपी ग्रामीण बैंकों पर सबसे अधिक मारामार रही। बैंक ग्राहकों तथा जनता का कहना है कि 29 दिन हो चुके हैं। लोगों को बैंकों की लाइनों में लगे भीड़ कम होने की बजाये प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। अब सरकारी कर्मचारियों का वेतन बैंकों में आने के बाद भी और अधिक हो चुकी है।




उधर स्टेट बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा तथा सर्वयूपी ग्रामीण बैंकों के मैनेजरों की गुंडागर्दी तथा महिलाओं व सीधे साधे लोगों के साथ अभद्र व्यवहार की घटना बढ़ती ही जा रही है। सर्य यूपी ग्रामीण बैंक के सैकिंड फील्ड ऑफिसर की गुंडादर्गी उरूज पर है। ग्राहकों और जनता का कहना है कि इन बैंकों पर इनके चाटूकारों की चांदी ही चांदी है। सुबहा से शाम तक लाइनों में खड़े होकर लोग खाली हाथ अपने घरों को वापस लौट रहे हैं और चार बजे से फिर इस उम्मीद के सहारे की आज हमारा पैसा हमें मिलेगा लाइनों में खड़े हो जाते हैं। सबसे अधिक परेशानी ग्रामीण तथा शहर की महिलाओं को उठानी पढ़ रही है।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट