किसान मेला एवं गोष्ठी का गन्ना समिति प्रांगण में आयोजन

बिजनौर/नगीना। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अर्न्तगत गन्ना समिति प्रांगण में किसान मेला एवं गोष्ठी को आयोजन किया गया। जिसमें कृषि वैज्ञानिकों मिल प्रतिनिधियों व गन्ना समिति के अधिकारीयो ने किसानों को ट्रैंच विधि द्वारा गन्ना बुआई बसंत कालीन बुआई, व सरकार से किसानों को मिलने वाले अनुदान के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। बुन्दकी मिल द्वारा किसानों को प्रयाप्त मात्रा में गन्ना पर्ची न मिलने के कारण गोष्ठी में किसानों ने हंगामा भी किया।




बीते दिन गन्ना समिति प्रांगण में आयोजित ब्लाक स्तरीय किसान मेले एंव गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए कृषि वैज्ञानिक डा. राकेश शर्मा ने किसानों को गन्ना बुआई बीज, सोधन खरपतवार नियंत्रण गन्ने में लगने वाली बीमारीयों व कीटों के बारे में किसानों को विस्तार पूर्वक बताया। गन्ना समिति सचिव धर्मेंन्द्र सिंह ने ट्रैंच विधि द्वारा बुआई बसन्त कालीन बआई किसानों को सरकार से अनुदान में मिलने वाली राशि को सीधे बैंको में भेजने के सम्बन्ध में जानकारी दी। किसान गोष्ठी को जेयष्ठ गन्ना विकास निरीक्षण अविनाश चन्द तिवारी, गन्ना विकास परिषद के चेयरमैन कृपाल सिंह, गन्ना मिल प्रतिनिधि रतन सिंह, सुनिल चौहान, गन्ना पर्यवेक्षक टीकम सिंह, राम गोपाल सिंह, अरविन्द गहलौत, विवेक राजपूत आदि ने किसानों को गन्ना समबन्धी जानकारी विस्तार पूर्वक दी।




किसानों ने बन्दकी मिल द्वारा गन्ना बांड न चलाने व किसानों को अवश्यकता के अनुरूप गन्ना पर्ची न दिये जाने के विरोध मे गोष्ठी में विकलांग किसान चमरौला निवासी ओमप्रकाश् व हरपाल सिंह ने घोड़ा बुग्गी से पंहुच कर पर्ची न मिलने पर हंगामा कर आरोप लगाते हुए कहा कि मिल की पर्ची दलाल लोग ब्लैक कर रहे है। गोष्ठी की अध्यक्षता चेयरमैन कृपाल सिंह व संचालन पर्यावेक्षक विरेंद्र कुमार ने किया।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट