एसपी से वार्ता के बाद महापंचायत स्थगित, प्रशासन ने ली राहत की सांस

बिजनौर। हिन्दू जनसंघर्ष समिति द्वारा घोषित की गयी 6 मार्च को होने वाली महापंचायत को पुलिस अधीक्षक से हुई वार्ता के बाद होली तक स्थगित कर दिया गया है। समिति के प्रतिनिधि मण्डल ने मांगे पूरी न होने पर होली के बाद महापंचायत किए जाने की बात कही है।




विशाल हत्याकांड में पुलिस द्वारा मुकदमे में नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी न किए जाने से नाराज हिन्दू जनसंघर्ष समिति ने छह मार्च को महापंचायत किए जाने का ऐलान किया था। महापंचायत को सफल बनाने के लिए हिन्दू जनसंघर्ष समिति व अन्य हिन्दू संगठनों ने पूरी ताखत झोंक रखी थी। पंचायत को लेकर जनपद में तरह-तरह की बातें उभर रही थीं। कुछ संगठन पक्ष में तो कुछ संगठन विरोध में खड़े हो रहे थे। महापंचायत के ऐलान से पुलिस प्रशासन हड़कम्प मचा हुआ था। पुलिस प्रशासन हर कीमत पर महापंचायत को रोकना चाहता था।

इसके लिए महापंचायत के संयोजनों को नोटिस भी जारी किए गए थे। इस प्रकरण में शनिवार की सुबह हिन्दू जनसंघर्ष समिति के पदाधिकारियों की पुलिस अधीक्षक अजय साहनी से वार्ता हुई। वार्ता के दौरान मामले की निष्पक्ष जांच कराये जाने, बिना साक्ष्य के हिन्दू समाज के किसी भी व्यक्ति को नहीं उठाने, मुकदमे में नामजद किसी भी व्यक्ति का नाम नहीं निकाले जाने तथा शीघ्र ही उनकी गिरफ्तारी किए जाने, वादी द्वारा मामले की जांच किसी और से कराये जाने आदि बिंदुओं पर सहमति के बाद महापंचायत को स्थगित कर दिया गया।




साथ ही मांग पूरी न होने पर होली के बाद महापंचायत किए जाने की बात भी कही गई। महापंचायत के स्थगित होने से पुलिस प्रशासन ने राहत की सांस ली है। पुलिस अधीक्षक से वार्ता करने वालों में शूरवीर सिंह, अनिल पाण्डे, जितेन्द्र, संजीव बंसल व थपेन्द्र सिंह आदि शामिल रहे।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

Loading...