उप्रः पुलिस कार्रवाई न होने क्षुब्ध दलित छात्रा ने जहर खाया, मौत

महोबा: उत्तर प्रदेश में महोबा जिला मुख्यालय के सुभाष नगर में छेड़छाड़ की घटना पर पुलिस कार्रवाई न होने क्षुब्ध होकर एक दलित छात्रा ने शनिवार को जहर खाकर आत्महत्या कर ली।




अपर पुलिस अधीक्षक राजेश सक्सेना ने रविवार को बताया कि ‘मां चंद्रिका महाविद्यालय की स्नातक दलित छात्रा पिंकी (22) ने शनिवार की रात अपने घर में जहर खा लिया, जिससे उसकी मौत हो गई।’ उन्होंने बताया कि ‘मृत छात्रा के पिता नंदलाल अहिरवार की तहरीर के आधार पर पड़ोस के दो युवक राजू साहू और सोनू रैकवार के खिलाफ छेड़छाड़ और आत्महत्या के लिए मजबूर करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी के लिए दविश दी जा रही है।’




उधर, छात्रा के पिता नंदलाल ने आरोप लगाया कि ‘बेटी ने छेड़खानी की सूचना नगर कोतवाली में 16 और 18 फरवरी को देने के बाद 28 फरवरी को खुद अपर पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर शिकायत की थी। लेकिन पुलिस ने आदेश के बाद भी मुकदमा नहीं दर्ज किया, जिससे उसने जहर खाकर आत्महत्या कर ली।’ उसने बताया कि ‘विद्यालय आते-जाते समय आरोपी युवक छेड़छाड़़ करते रहे और पुलिस मूक बनी रही।’

बांदा से रामलाल जयन की रिपोर्ट