दुर्घटना का शबब बने खुले में रखे ट्रांसफार्मर, अधिकारी अंजान

बिजनौर/नजीबाबाद। विद्युत विभाग जगह जगह चौकिंग अभियान चला रहा है मगर विभागीय अधिकारियों को बिना तारबाड़ के खुले में रखे विद्युत ट्रांस्फार्मर नजर नहीं आ रहे है। बिना तार बाड़ के रखे ट्रांस्फार्मर किसी भी दिन दुर्घटना का सबब बन सकते है।




जानकारी के अनुसार तहसील नजीबाबाद नगर के विभिन्न मौहल्लों व मुख्य मार्गो पर काफी समय से विद्युत ट्रांस्फार्मर बिना तारबाड़ के खुले में रखे हुए है विभागीय अधिकारियों का ध्यान कई बार इस ओर दिलाया गया मगर शिकायत आश्वासन तक सीमित होकर रह जाती है। विभाग ने बकाया वसूली व चौकिंग को जगह जगह अभियान चला रखा है प्रति दिन विभागीय अधिकारी नगर क्षेत्र में घूम रहें है मगर उन्हें बिना तारबाड़ के रखे विद्युत ट्रांस्फार्मर नजर नही आ रहे है या अधिकारी उन्हें नजर अंदाज कर रहें है।




नगर के मौहल्ला जाब्तागंज, वाहिद नगर मुगलूशाह सहित कई जगह बिना तार बाड़ के रखे ट्रांस्फार्मरों के तार जमीन से मिले हुए है जिससे किसी भी दिन कोई हादसा हो सकता है। शायद विभागीय अधिकारियों को किसी बड़े हादसे का इंतेजार है। इस सम्बंध में एसडीओ विकास कुमार का कहना है कि कई जगह बड़े विद्युत ट्रांस्फार्मर रखने के साथ केबिल बदलने का कार्य होना है। कार्य प्रारम्भ होने पर विद्युत ट्रांस्फार्मरों की तार बाड़ का कार्य भी कराया जाएगा।

Bijnor News 717 :

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

बिजनौर/नजीबाबाद। विद्युत विभाग जगह जगह चौकिंग अभियान चला रहा है मगर विभागीय अधिकारियों को बिना तारबाड़ के खुले में रखे विद्युत ट्रांस्फार्मर नजर नहीं आ रहे है। बिना तार बाड़ के रखे ट्रांस्फार्मर किसी भी दिन दुर्घटना का सबब बन सकते है। जानकारी के अनुसार तहसील नजीबाबाद नगर के विभिन्न मौहल्लों व मुख्य मार्गो पर काफी समय से विद्युत ट्रांस्फार्मर बिना तारबाड़ के खुले में रखे हुए है विभागीय अधिकारियों का ध्यान कई बार इस ओर दिलाया गया मगर शिकायत आश्वासन तक सीमित होकर रह जाती है। विभाग ने बकाया वसूली व चौकिंग को जगह जगह अभियान चला रखा है प्रति दिन विभागीय अधिकारी नगर क्षेत्र में घूम रहें है मगर उन्हें बिना तारबाड़ के रखे विद्युत ट्रांस्फार्मर नजर नही आ रहे है या अधिकारी उन्हें नजर अंदाज कर रहें है। नगर के मौहल्ला जाब्तागंज, वाहिद नगर मुगलूशाह सहित कई जगह बिना तार बाड़ के रखे ट्रांस्फार्मरों के तार जमीन से मिले हुए है जिससे किसी भी दिन कोई हादसा हो सकता है। शायद विभागीय अधिकारियों को किसी बड़े हादसे का इंतेजार है। इस सम्बंध में एसडीओ विकास कुमार का कहना है कि कई जगह बड़े विद्युत ट्रांस्फार्मर रखने के साथ केबिल बदलने का कार्य होना है। कार्य प्रारम्भ होने पर विद्युत ट्रांस्फार्मरों की तार बाड़ का कार्य भी कराया जाएगा।बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट