शिक्षक संघ ने खण्ड शिक्षा अधिकारी पर लगाया उत्पीडन का आरोप, कार्रवाही की मांग

बिजनौर/धामपुर। उत्तर प्रदेश जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ ने खंड शिक्षा अधिकारी पर शिक्षकों के उत्पीडन का आरोप लगाया। शिक्षकों ने बीएसए से खंड शिक्षा अधिकारी के क्रियाकलापों की जांच कराकर शिक्षकों को उनके उत्पीडन से निजात दिलाने की मांग की है। प्राथमिक शिक्षक संघ ब्लॉक अल्हैपुर व पूर्व महाविद्यालय शिक्षक संघ की बैठक को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष सुधीर कुमार यादव ने कहा कि खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा तीन चर्चित शिक्षकों के साथ मिलकर स्कूलों में छापेमारी की जा रही है।



आरोप है कि निरीक्षण के नाम पर अध्यापकों से तीनों शिक्षकों के माध्यम से अवैध वसूली की जा रही है। जिलाध्यक्ष ने कहा कि इसके साथ ही अध्यापकों के प्रति उनका व्यवहार अशोभनीय है। जिलाध्यक्ष ने कहा कि विद्यालय समय में तीनों चर्चित शिक्षक किस प्रकार घूम रहे है।

जिलाध्यक्ष सुधीर कुमार का कहना है कि गत तीन अक्टूबर को सीडीओ ने आदेश दिया था, कि विद्यालय निरीक्षण के दौरान यदि कोई कमी पाई जाती है, तो पहले मुख्य अध्यापक से स्पष्टीकरण के उपरान्त ही अग्रिम कार्रवाई के लिए अधिकारियों को रिपोर्ट भेजी जाए। मगर इसके बावजूद बिना स्पष्टी कारण लिए ही कार्रवाई की जा रही है। खंड शिक्षा अधिकारी के इस क्रियाकलापों से परेशान होकर शिक्षकों ने आंदोलन की चेतावनी दी है।




इस अवसर पर संयुक्त सचिव विश्वपाल सिंह, नरेश कुमार, धर्मेन्द्र चौहान, भूपेन्द्र चौहान, वैभव प्रताप, घनश्याम सिंह, हरीश अहमद, अमरीश यादव, शमीम अहमद, संजय सिंह, दिनेश कुमार, चन्द्र प्रताप सिंह, विवेक बंसल, संगीता रानी, यशपाल सिंह, सुरेन्द्र सिंह, प्रमोद कुमार व संजीव कौशिक आदि मौजूद रहे। बैठक की अध्यक्षता अर्चना सिंह तथा संचालन धर्मेन्द्र कुमार ने किया।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

Loading...