विवाहिता को दहेजलोभियों ने मारपीट कर जहरीला पदार्थ खिलाया

बिजनौर/धामपुर। दहेज में पचास हजार की मांग पूरी न होने पर ससुरालियों ने विवाहिता को मारपीट कर जहरीला पदार्थ खिला दिया। हालत बिगडने पर विवाहिता को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। विवाहिता के परिजनों ने कोतवाली पुलिस को पति सहित पांच लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की।



Bijnor News 724 :

पुलिस को दिए शिकायती पत्र में नहटौर थाना क्षेत्र के गांव खेड़ीजट निवासी सुनील कुमार पुत्र अनंगपाल सिंह ने बताया कि उसने अपनी बहन मिथलेश की शादी चार वर्ष पूर्व गांव कौड़ीपुरा निवासी नरदेव सिंह पुत्र रमेश सिंह के साथ की थी। सुनील का आरोप है कि उसने बहन की शादी में अपनी सामथ्र्य अनुसार दान दहेज भी दिया था। मगर ससुराल पक्ष के लोग संतुष्ट नहीं थे। आरोप है कि मिथलेश के ससुरालियां पिछले काफी दिनों से पचास हजार रूपए की मांग कर रहे थे। मगर पिछले दिनों उसके पिता की मौत हो जाने के कारण वह रकम देने में सक्षम नहीं था।




पुलिस को दिए शिकायती पत्र में सुनील ने कहा कि गत दिनों उसकी बहन को अपने मायके आना था। दोपहर में उसका फोन आया कि उसे बचा ले। ससुरालियां उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। सूचना पर सुनील जब अपनी बहन के घर पहुंचा, तो देखा कि उसके पहुंचने से पूर्व की डायल 100 पुलिस पहुंच चुकी थी तथा उसकी बहन गंभीर अवस्था में पुलिस की गाड़ी में पड़ी थी। पुलिस ने उसे उपचार के लिए चिकित्सक के यहां भर्ती करा दिया। चिकित्सक ने भी मिथलेश को जहर देने की बात कही है। सुनील ने आरोपी पति, ससुर तथा देवर के खिलाफ नामजद तहरीर देकर कार्रवाई की मांग है। पुलिस ने पूरे मामले की जांच कर कार्रवाई की बात कही है।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

बिजनौर/धामपुर। दहेज में पचास हजार की मांग पूरी न होने पर ससुरालियों ने विवाहिता को मारपीट कर जहरीला पदार्थ खिला दिया। हालत बिगडने पर विवाहिता को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। विवाहिता के परिजनों ने कोतवाली पुलिस को पति सहित पांच लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। पुलिस को दिए शिकायती पत्र में नहटौर थाना क्षेत्र के गांव खेड़ीजट निवासी सुनील कुमार पुत्र अनंगपाल सिंह ने बताया कि उसने अपनी बहन मिथलेश की शादी चार वर्ष पूर्व गांव कौड़ीपुरा निवासी नरदेव सिंह पुत्र रमेश सिंह के साथ की थी। सुनील का आरोप है कि उसने बहन की शादी में अपनी सामथ्र्य अनुसार दान दहेज भी दिया था। मगर ससुराल पक्ष के लोग संतुष्ट नहीं थे। आरोप है कि मिथलेश के ससुरालियां पिछले काफी दिनों से पचास हजार रूपए की मांग कर रहे थे। मगर पिछले दिनों उसके पिता की मौत हो जाने के कारण वह रकम देने में सक्षम नहीं था। पुलिस को दिए शिकायती पत्र में सुनील ने कहा कि गत दिनों उसकी बहन को अपने मायके आना था। दोपहर में उसका फोन आया कि उसे बचा ले। ससुरालियां उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। सूचना पर सुनील जब अपनी बहन के घर पहुंचा, तो देखा कि उसके पहुंचने से पूर्व की डायल 100 पुलिस पहुंच चुकी थी तथा उसकी बहन गंभीर अवस्था में पुलिस की गाड़ी में पड़ी थी। पुलिस ने उसे उपचार के लिए चिकित्सक के यहां भर्ती करा दिया। चिकित्सक ने भी मिथलेश को जहर देने की बात कही है। सुनील ने आरोपी पति, ससुर तथा देवर के खिलाफ नामजद तहरीर देकर कार्रवाई की मांग है। पुलिस ने पूरे मामले की जांच कर कार्रवाई की बात कही है।बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट