चार लोगो की होली के त्यौहार पर अलग-अलग दुर्घटनाओं में मौत, कई घायल

बिजनौर। ट्रक व स्कार्पियो की टक्कर लगने सहित अलग-अलग दो की मौत हो गयी, जबकि एक की नजीबाबाद व एक की दिल्ली से लौटते समय मौत हो गयी। इन घटनाओं से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। मण्डावर थाना क्षेत्र के गांव तैय्यबपुर काजी उर्फ काजीवाला निवासी जोगेन्द्र पुत्र जगदीश 37 वर्ष नोएडा में देशी शराब के ठेके पर सैल्समैन पद पर कार्यरत था और अपने परिवार में पांच बहनों में अकेला भाई था। उसके माता पिता का स्वर्गवास पहले ही हो गया था व उसके तीन छोटे छोटे बच्चे भी हैं।




रविवार देर शाम नोएडा में दुकान से कमरे पर आते हुए रास्ते में किसी ट्रक की टक्कर लगने से मौके पर ही उसकी मौत हो गयी। मौत की सूचना पर पहुंचे परिजन शव को अपने साथ बिना पोस्टमार्टम कराये अपने साथ ले आये और सोमवार की सुबह गंगाजी पर उसका अंतिम संस्कार कर दिया। इस गम में परिवार में कोहराम मचा हुआ है। उधर थाना क्षेत्र के ही गांव नई बस्ती उर्फ शीमला खुर्द निवासी मनोज पुत्र लक्ष्मीचंद अपनी माता को रविवार की सुबह अपने मामाजी के यहां गांव रणजीतपुर उत्तराखण्ड में छोड़कर वापस जा रहा था। देर शाम गांव कलशसिया उत्तराखण्ड के पास स्कार्पियो गाड़ी ने उसकी मोटर साइकिल में टक्कर मार दी। जिससे मनोज की मौके पर ही मौत हो गयी। राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। इस घटना से परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

इनकी होली तो खुशी की जगह गम में बदल गयी। वहीं नजीबाबाद संवाददाता के अनुसार नगीना बुन्दकी मार्ग पर तेज रफ्तार कार ने मोटर साईकिल में टक्कर मार दी। दो युवकों की गम्भीर हालत को देखते हुए उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। जिसमें एक की मौत हो गयी। प्रत्यक्षदर्क्षियों के मुताबिक टक्कर इतनी भीषण थी कि मोटर साईकिल पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। कार भी कई पलटे खाकर खाई में जा गिरी। डायल 100 को सूचना देने के बाद भी काफी देर तक पुलिस मौके पर नही पहुंच सकी थी। मंगलवार को नगीना बुन्दकी मार्ग पर बद्रीकेदार पेपर मिल के समीप तेज रफ्तार कार संख्या यूपी 20 एसी 2209 ने मोटर साईकिल संख्या यूके 08 एएच 7209 में जबरदस्त टक्कर मार दी। जिसमें बाईक सवार दो युवक गम्भीर रूप से घायल हो गये।




टक्कर इतनी भीषण थी कि कार कई पलटे खाकर खाई में जा गिरी। कार सवार मौके से फरार हो गये। घटना स्थल पर मौजूद लोगों ने डायल 100 नम्बर पर फोन किया। काफी देर तक भी पुलिस मौके पर नही पहुंच पाई। लोगों ने घायलों को प्राईवेट वाहन से अस्पताल पहुंचाया। जिसकी बाद में मौत हो गयी। मृतक प्रेमपाल सिंह 30 वर्ष लालढांग का निवासी बताया गया है। घायल कहा के निवासी है इस सम्बंध में जानकारी नहीं मिल सकी। दूसरी ओर पुलिस लाइन बिजनौर में कारपेंटर के पद पर तैनात राकेश शर्मा का बेटा अंकुर शर्मा होटल मैनेजमेंट का कोर्स करने के बाद दिल्ली के एक होटल में काम करता था। बताया जाता है कि होली की शाम वह अपने साथी के साथ बाइक पर सवार होकर घर आ रहा था। रास्ते में रोडवेज बस ने उनकी बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में अंकुर की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि उसका साथी घायल हो गया। दुर्घटना की सूचना मृतक के परिजनों को दी गयी। सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया और खुशियों का माहौल गम में बदल गया। दुल्हैंडी के दिन अंकुर का अंतिम संस्कार किया गया।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट