भाजपा के नवनिर्वाचित विधायक ने प्रेस वार्ता में कहा अब गुंड़े माफियाओं से मिलेगी मुक्ति

बिजनौर/धामपुर। धामपुर विधानसभा क्षेत्र के नवनिर्वाचित भाजपा विधायक अशोक कुमार राणा ने कहा कि प्रदेश ने पांच वर्ष खूब अत्याचार सहा हैं, लेकिन अब गुंड़ों व माफियाओं से मुक्ति मिलेगी। ग्राम ठाटं जट में अपने आवास पर आयोजित पत्रकार वार्ता में अशोक कुमार राणा ने कहा कि सपा सरकार के तुष्टिकरण के विरोध में जनता ने भाजपा को प्रचंड बहुमत दिया है। उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए सपाई मानसिकता त्याग कर कार्य करें और अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो अपना बोरिया-बिस्तर बांध लें।




उन्होंने प्रदेश में मिले प्रचंड बहुमत को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा जनता को समर्पित करते हुए कहा कि जनता सपा के कुशासन से मुक्ति पाना चाहती थी। उन्होंने कहा कि जिले के अधिकारी जल्द नहीं सुधरे तो ओवरहॉलिंग होगी। अधिकारियों कें भ्रष्ट रवैये से जनता बुरी तरह त्रस्त है। यू0पी0 डायल 100 गाडियों में तैनात पुलिसकर्मी जनता को सुविधा देने के स्थान पर दिन-रात वसूली में जुटे हैं। अब इन्हें सुधरना होगा। नहीं सुधरे तो ऐसी व्यवस्था होगी कि ये अपने ट्रांसफर कराकर चले जाएं। उन्होंने कहा कि पुरानी सरकार में चल रहे विकास कार्यों को रोकने का कोई प्रयास नहीं होगा, लेकिन गुणवत्ता से किसी तरह का समझौता नहीं होगा। उन्होंने कहा कि जनता ने सपा तथा बसपा को विपक्ष में बैठने लायक भी नहीं छोड़ा है।

Bijnor News 729 :

भाजपा विधायक अशोक राणा ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में अलग-अलग समस्याएं हैं। कहीं सड़क खराब है, तो कहीं स्वच्छ पानी तथा स्कूल की समस्या है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता जिसे प्राथमिकता के साथ बताएगी, उसी के अनुसार विकास कार्य कराए जाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र की सराकर के ढाई वर्ष के कार्यकाल में इतना कार्य हो चुका है कि 2019 तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 20 घण्टे तथा शहरी क्षेत्रों में 24 घण्टे विद्युतापूर्ति की जाएगी। क्षेत्र में प्राथमिकता के आधार पर चिकित्सकों की नियुक्ति कराने का उन्होंने वादा किया। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में कानून व्यवस्था को पटरी पर लाना उनको पहली प्राथमिकता होगी। इसके लिए शपथ ग्रहण करने के बाद पूरे विधानसभा के अधिकारियों को सुधरने का एक मौका दिया जाएगा।




यदि इस बीच अधिकारियों ने अपनी कार्यप्रणाली में सपाई मानसिकता नहीं छोड़ी, तो उनको मजबूरी में हटवाना पड़ेगा। इसके साथ ही उन्होंने पूरे विधानसभा क्षेत्र में बिना किसी भेदभाव के समान रूप से विकास कार्य कराने का भरोसा दिलाया। इस अवसर पर पूर्व विधायक राजेन्द्र सिंह चौहान, पूर्व ब्लॅाक प्रमुख उदित नारायण सिंह, पूर्व जिला पंचायत सदस्य राणा प्रियंकर सिंह, नीरज प्रताप सिंह, एस.के. देवरा, रूपराज सिंह, राजीव चौहान आदि मौजूद रहे।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

loading…


बिजनौर/धामपुर। धामपुर विधानसभा क्षेत्र के नवनिर्वाचित भाजपा विधायक अशोक कुमार राणा ने कहा कि प्रदेश ने पांच वर्ष खूब अत्याचार सहा हैं, लेकिन अब गुंड़ों व माफियाओं से मुक्ति मिलेगी। ग्राम ठाटं जट में अपने आवास पर आयोजित पत्रकार वार्ता में अशोक कुमार राणा ने कहा कि सपा सरकार के तुष्टिकरण के विरोध में जनता ने भाजपा को प्रचंड बहुमत दिया है। उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए सपाई मानसिकता त्याग कर कार्य करें और अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो अपना बोरिया-बिस्तर बांध लें। उन्होंने प्रदेश में मिले प्रचंड बहुमत को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा जनता को समर्पित करते हुए कहा कि जनता सपा के कुशासन से मुक्ति पाना चाहती थी। उन्होंने कहा कि जिले के अधिकारी जल्द नहीं सुधरे तो ओवरहॉलिंग होगी। अधिकारियों कें भ्रष्ट रवैये से जनता बुरी तरह त्रस्त है। यू0पी0 डायल 100 गाडियों में तैनात पुलिसकर्मी जनता को सुविधा देने के स्थान पर दिन-रात वसूली में जुटे हैं। अब इन्हें सुधरना होगा। नहीं सुधरे तो ऐसी व्यवस्था होगी कि ये अपने ट्रांसफर कराकर चले जाएं। उन्होंने कहा कि पुरानी सरकार में चल रहे विकास कार्यों को रोकने का कोई प्रयास नहीं होगा, लेकिन गुणवत्ता से किसी तरह का समझौता नहीं होगा। उन्होंने कहा कि जनता ने सपा तथा बसपा को विपक्ष में बैठने लायक भी नहीं छोड़ा है।भाजपा विधायक अशोक राणा ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में अलग-अलग समस्याएं हैं। कहीं सड़क खराब है, तो कहीं स्वच्छ पानी तथा स्कूल की समस्या है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता जिसे प्राथमिकता के साथ बताएगी, उसी के अनुसार विकास कार्य कराए जाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र की सराकर के ढाई वर्ष के कार्यकाल में इतना कार्य हो चुका है कि 2019 तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 20 घण्टे तथा शहरी क्षेत्रों में 24 घण्टे विद्युतापूर्ति की जाएगी। क्षेत्र में प्राथमिकता के आधार पर चिकित्सकों की नियुक्ति कराने का उन्होंने वादा किया। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में कानून व्यवस्था को पटरी पर लाना उनको पहली प्राथमिकता होगी। इसके लिए शपथ ग्रहण करने के बाद पूरे विधानसभा के अधिकारियों को सुधरने का एक मौका दिया जाएगा। यदि इस बीच अधिकारियों ने अपनी कार्यप्रणाली में सपाई मानसिकता नहीं छोड़ी, तो उनको मजबूरी में हटवाना पड़ेगा। इसके साथ ही उन्होंने पूरे विधानसभा क्षेत्र में बिना किसी भेदभाव के समान रूप से विकास कार्य कराने का भरोसा दिलाया। इस अवसर पर पूर्व विधायक राजेन्द्र सिंह चौहान, पूर्व ब्लॅाक प्रमुख उदित नारायण सिंह, पूर्व जिला पंचायत सदस्य राणा प्रियंकर सिंह, नीरज प्रताप सिंह, एस.के. देवरा, रूपराज सिंह, राजीव चौहान आदि मौजूद रहे।बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट
loading...