राशन वितरण में पारदर्शिता के लिए विजिलेंस टीमों का गठन

बिजनौर/धामपुर। राशन वितरण में पारदर्शिता लाने के साथ ही आम लोगों की शिकायतों को सीधे सुनने के लिए पूर्ति विभाग स्तर पर विजिलेंस टीमों का गठन किया जाएगा। शहर से लेकर गांव तक गठित होने वाली इन टीमों में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के साथ ही प्रशासनिक अफसर भी शामिल रहेंगे। मासिक बैठकों का आयोजन कर समिति पदाधिकारी आम लोगों की शिकायतों को सुन तत्काल निस्तारण की पहल करेंगे।




राशन वितरण में धांधली को लेकर लगातार शिकायतें मिल रही हैं। आम लोगों की शिकायतों को निस्तारित नहीं कर पाने का उलहाना भी विभागीय अधिकारी लगातार झेल रहे हैं। इस सबसे निजात पाने के लिए विभागीय स्तर पर नई पहल की गई है। अब शहर से लेकर गांव तक सभी स्थानों पर विजिलेंस टीमों का गठन किया जाएगा। इन टीमों में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के साथ ही जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारी एवं राशन कार्ड धारकों को भी शामिल किया जाएगा। प्रत्येक माह इन टीमों की बैठक कर राशन कार्ड धारकों की समस्याओं को सुनने के साथ ही उनका निस्तारण किया जाएगा।

मौके पर शिकायत निस्तारित नहीं होने की स्थिति में इसकी जानकारी तत्काल विभागीय आला अधिकारियों को दी जाएगी। जिसके बाद समय रहते जिम्मेदार अफसर आम लोगों की शिकायतों को निस्तारित करेंगे। फिलहाल पूर्ति विभाग स्तर पर इसकी पूरी रूपरेखा तैयार की जा रही है, जल्द ही इन टीमों का गठन कर क्रियान्वयन शुरू करा दिया जाएगा।




उधर पूर्ति विभाग स्तर पर गठित की जाने वाली टीमों में नगर स्तर पर पालिकाधिकारियों के साथ ही तीन राशन कार्डधारकों को शामिल किया जाएगा। इसके अलावा ग्रामीण स्तर पर ब्लाक अधिकारी, ग्राम प्रधान एवं ग्राम पंचायत सदस्य के साथ ही तीन राशन कार्डधारक टीम में शामिल किए जाएंगे।

एआरओ महेश गौतम ने राशनकार्ड धारकों की शिकायतों का समयबद्ध रूप से निस्तारण कराए जाने के लिए इन टीमों का गठन किए जाने पर विचार चल रहा है। इसके बाद राशन वितरण में भी पारदर्शिता आएगी। पूरी कार्य योजना बनाई जा रही है। जल्द ही इसे अमलीजामा पहनाया जाएगा।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

Loading...