फर्जी कागजात लगाने पर विद्युत विभाग के अधिकारियों पर मुकदमें के आदेश

बिजनौर। सीजेएम कोर्ट ने नलकूप पर विद्युत कनेक्शन के लिए सह खातादारो की फर्जी सहमति प्रमाण पत्र लगाने के मांमले में विद्युत केन्द्र के तत्कालीन अधिशासी अभियंता, जेई सहित कई पर पुलिस को मुकदमा दर्ज के आदेश दिए है।

जानकारी के अनुसार थाना हल्दौर क्षेत्र के ग्राम खैराबाद निवासी जगदेव पुत्र बलवीर व सुरेन्द्र की जमीन मौजा लाडनपुर परगना दारनगर में है। यह दोनो लोग उक्त जमीन में खातेदार है। वादी जगदेव का आरोप है कि सह खातेदार सुरेन्द्र सिंह ने उक्त जमीन पर नलकूप लगाने के लिए विद्युत विभाग में आवेदन किया था। आवेदन पत्र के साथ सह खातादारों के सहमति शपथ पत्र फर्जी लगाए गए। आरोप है कि फर्जी शपथ पत्र के साथ आवेदन खैराबाद विद्युत केन्द्र के अवर अभियंता तीरथ राज, जखां उल्ला खां तत्कालीन अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खण्ड चांदपुर के यहां जमा कराए गए।

आरोप है कि इस पूरे फर्जीवाडे में यह अधिकारी सह खातेदार के साथ पूरी तरह हमसाज रहे। जबकि इस पूरे मांमले की शिकायत वादी जगदेव सिंह ने संबन्धित अधिकारियों के अलावा तहसील दिवस में भी की लेकिन कोई कार्रवाही नही हुई। इंसाफ न मिलने पर वादी जगदेव ने कार्रवाही के लिए कोर्ट से गुहार लगाई। दलील सुनने के बाद कोर्ट ने विद्युत केन्द्र के अवर अभियंता तीरथ राज, जखां उल्ला खां तत्कालीन अधिशासी अभियंता विद्युत, सह खातेदार सुरेन्द्र व अवनीश के चांदपुर थाना पुलिस को मुकदमा दर्ज के आदेश दिए है।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

Loading...