1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. CDS Bipin Rawat passed away : संसद में रक्षामंत्री , बोले- 11.48 पर जनरल रावत ने भरी उड़ान, 12.08 पर कटा एटीसी से संपर्क

CDS Bipin Rawat passed away : संसद में रक्षामंत्री , बोले- 11.48 पर जनरल रावत ने भरी उड़ान, 12.08 पर कटा एटीसी से संपर्क

CDS Bipin Rawat passed away :  राज्यसभा में राजनाथ सिंह (Rajnath Singh)  ने कहा कि बिपिन रावत (Bipin Rawat) ने सुलूर एयरबेस से उड़ान भरी थी। चॉपर में सवार 14 लोगों में से 13 लोगों का निधन हो गया है। राजनाथ सिंह ने बताया कि सबसे पहले स्थानीय लोगों को इसकी सूचना मिली। राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने हादसे में मारे गए सभी मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

CDS Bipin Rawat passed away :  राज्यसभा में राजनाथ सिंह (Rajnath Singh)  ने कहा कि बिपिन रावत (Bipin Rawat) ने सुलूर एयरबेस से उड़ान भरी थी। चॉपर में सवार 14 लोगों में से 13 लोगों का निधन हो गया है। राजनाथ सिंह ने बताया कि सबसे पहले स्थानीय लोगों को इसकी सूचना मिली। राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने हादसे में मारे गए सभी मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

पढ़ें :- Jammu and Kashmir: बांदीपोर में सेना का हेलीकाप्टर हुआ दुर्घटनाग्रस्त, बचाव कार्य जारी

तमिलनाडु (Tamil Nadu)  के कुन्नूर में वायुसेना का हेलीकॉप्टर क्रैश (Helicopter Crash) पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh)  लोकसभा में बयान देते हुए कहा कि जनरल रावत अपने तय दौरे पर थे। बुधवार को 11.48 पर एमआई-17 हेलीकॉप्टर से उड़ान भरी। एयर ट्रैफिक कंट्रोल ने लगभग 12:08 बजे अपना नियंत्रण खो दिया। बाद में कुछ लोगों ने इस हेलीकॉप्टर को आग की लपटों में देखा गया। स्थानीय प्रशासन का एक बचाव दल पहुंच गया। उस अवशेष से जितने भी लोगों को निकाला गया, उन्हें वेलिंगटन के सैन्य अस्पताल पहुंचाया गया। हादसे में 14 में से 13 लोगों की मौत हो गई है। राजनाथ सिंह ने बिपिन रावत और पत्नी मधुलिका रावत समेत अन्य 11 सैन्य अधिकारियों की मौत पर संवेदना प्रकट की है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh)  ने लोकसभा में अपने बयान में तमिलनाडु (Tamil Nadu) में सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना (chopper crash) पर बयान देते हुए कहा कि सीडीएस जनरल बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) का अंतिम संस्कार पूरे सैन्य सम्मान (Appropriate Military Honour) के साथ किया जाएगा। इसके साथ ही अन्य सैन्य कर्मियों का अंतिम संस्कार उचित सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...