बुलेट ट्रेन से 4 गुणा ज्यादा रफ्तार पर दौड़ेगी यह सवारी

भारत में पहली बुलेट ट्रेन मुंबई से अहमदाबाद रूट पर दौड़ेगी। अनुमान है कि 320-350km प्रतिघंटा की रफ्तार हासिल करने के बाद यह ट्रेन मुंबई से अहमदाबाद की दूरी लगभग 2 घंटे में तय कर लेगी। लेकिन आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि बुलेट ट्रेन की जगह पर एक ऐसी सवारी भी लाई जा सकती है जो 1,200 km प्रतिघंटा की रफ्तार तक भी पहुंच जाएगी! यानी की बुलेट ट्रेन से 4 गुणा ज्यादा रफ्तार।

अगर यह सपना सच साबित हो गया तो 2 घंटे का सफर महज 40 मिनट में ही तय हो जाएगा। समाचार एजंसी आईएएनएस के मुताबिक बिरला इंस्टिट्यूट ऑफटेक्नॉलजी एंड साइन्स, पिलानी (BITS) के कुछ छात्र इसी प्रॉजेक्ट को लेकर काम कर रहे हैं। छात्र एक “Hyperloop” तकनीक से चलने वाला वाहन तैयार कर रहे हैं जो 1,200 km प्रतिघंटा की रफ्तार पर दौड़ सकेगा।

हाइपरलूप तकनीक का इस्तेमाल कर छात्र एक “पॉड” बना रहे हैं। यह “पॉड” या एक वैक्यूम ट्यूब होगा जिसके लिए तैयार किया गया खास वाहन 1,200 km प्रतिघंटा की रफ्तार हासिल कर सकेगा। “Hyperloop India” इस वैक्यूम ट्यूब या पॉड को बनाने के आखिरी मुकाम पर हैं। सिंगल कम्पार्टमेंट के इस पॉड के अगस्त महीने के अंत तक सामने आने की उम्मीद है। कैलिफोर्निया स्थित SpaceX मुख्यालय में इससे पर्दा उठया जाएगा। आईएएनएस से बातचीत में प्रॉजेक्ट पर काम कर रहे एक छात्र पृथ्वी शंकर ने इसके बारे में बताया। शंकर ने कहा, “हाइपरलूप एक ट्यूब ट्रेवल तकनीक है। ट्यूब में एक वाहन होता है जो चुम्बकीय शक्ति के कारण हवा में एक ऊंचाई पर तैरते हुए ट्रेवल करता है।”