सूबे में भगवा की लहर, अपने घर में बुरी तरह हारे सीएम योगी

yogi-adityanath1

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के 16 नगर निगमों में 14 पर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने अपना कब्जा जमा लिया है। इस चुनाव में एक ऐसा क्षेत्र रहा जहां भाजपा का गढ़ होते हुए भी पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। वो गढ़ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का है। गोरखपुर के वार्ड नंबर 68 में भाजपा उम्मीदवार माया त्रिपाठी को हार का सामना करना पड़ा है। यहां से निर्दलीय प्रत्याशी नादिरा खातून की जीत हुई है।

Bjp Candidate Maya Tripathi Loses Ward No 68 Gorakhpur Gorakhnath Temple :

बताते चलें कि इसी वार्ड में गोरखनाथ मंदिर आता है, जहां के अध्यक्ष और मुख्य पुजारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैं। निर्दलीय प्रत्याशी नादिरा ने अपनी जीत पर कहा कि लोगों ने उनके विकास के एजेंडे को वोट दिया है। उन्होंने कहा कि जरूरी हुआ तो वो इलाके के विकास के लिए योगी आदित्यनाथ से भी मिलेंगी।

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, ‘यह जीत आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में अटूट विश्वास और आदरणीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जी एवं भाजपा के लाखो कार्यकर्ताओं के कठोर परिश्रम व प्रदेश सरकार की लोक-कल्याणकारी नीतियों और विकासशील शासन में अटूट विश्वास की जीत है। हम विकास के पथ पर अनवरत कार्य करते चलेंगे।’

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के 16 नगर निगमों में 14 पर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने अपना कब्जा जमा लिया है। इस चुनाव में एक ऐसा क्षेत्र रहा जहां भाजपा का गढ़ होते हुए भी पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। वो गढ़ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का है। गोरखपुर के वार्ड नंबर 68 में भाजपा उम्मीदवार माया त्रिपाठी को हार का सामना करना पड़ा है। यहां से निर्दलीय प्रत्याशी नादिरा खातून की जीत हुई है।बताते चलें कि इसी वार्ड में गोरखनाथ मंदिर आता है, जहां के अध्यक्ष और मुख्य पुजारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैं। निर्दलीय प्रत्याशी नादिरा ने अपनी जीत पर कहा कि लोगों ने उनके विकास के एजेंडे को वोट दिया है। उन्होंने कहा कि जरूरी हुआ तो वो इलाके के विकास के लिए योगी आदित्यनाथ से भी मिलेंगी।यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, 'यह जीत आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में अटूट विश्वास और आदरणीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जी एवं भाजपा के लाखो कार्यकर्ताओं के कठोर परिश्रम व प्रदेश सरकार की लोक-कल्याणकारी नीतियों और विकासशील शासन में अटूट विश्वास की जीत है। हम विकास के पथ पर अनवरत कार्य करते चलेंगे।'