यूपी राज्यसभा उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी सुधांशु त्रिवेदी ने किया नामांकन

sudhanshu trivedi
यूपी राज्यसभा उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी सुधांशु त्रिवेदी ने किया नामांकन

लखनऊ। पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन से रिक्त हुई यूपी की राज्यसभा सीट से बीजेपी के प्रत्याशी सुधांशु त्रिवेदी ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम डॉ.दिनेश शर्मा, राज्यसभा सदस्य डॉ. अशोक वाजपेयी तथा मंत्रिमंडल के कई सहयोगी मौजूद थे। नेता मौजूद थे। आपको बता दें कि नामांकन का आज अंतिम दिन था। एक सीट पर हो रहे उप चुनाव में किसी अन्य दल के प्रत्याशी का नामांकन न होने से सुधांशु त्रिवेदी का राज्यसभा सदस्य निर्वाचित होना तय माना जा रहा है।

Bjp Candidate Sudhanshu Trivedi Nominated In Up Rajya Sabha By Election :

यूपी से राज्यसभा सांसद र​हे अरुण जेटली के निधन से खाली हुई हैं। पर्याप्त संख्या बल होने के चलते उनकी जीत सुनिश्चित मानी जा रही है। यूपी की सीट के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा और पूर्व यूपी भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी भी प्रबल दावेदार थे।

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को उत्तर प्रदेश से राज्यसभा उप चुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित किया। त्रिवेदी ने पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन से रिक्त हुई सीट पर शुक्रवार को नामांकन किया। सुधांशु त्रिवेदी भाजपा विधान मंडल दल कार्यालय से सेंट्रल हाल में नामांकन भरने पहुंचे। अरुण जेटली की रिक्त सीट पर सुधांशु को मौका देकर भाजपा ने जहां ब्राह्मण समीकरण साधे हैं वहीं संगठन को भी महत्व दिया है।

सुधांशु त्रिवेदी मैकेनिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी हैं। जब राजनाथ सिंह यूपी के मुख्यमंत्री बने तो सुधांशु त्रिवेदी उनके सूचना सलाहकार बने। राजनाथ के पार्टी अध्यक्ष रहते सुधांशु त्रिवेदी उनके राजनीतिक सलाहकार भी रहे।

लखनऊ। पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन से रिक्त हुई यूपी की राज्यसभा सीट से बीजेपी के प्रत्याशी सुधांशु त्रिवेदी ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम डॉ.दिनेश शर्मा, राज्यसभा सदस्य डॉ. अशोक वाजपेयी तथा मंत्रिमंडल के कई सहयोगी मौजूद थे। नेता मौजूद थे। आपको बता दें कि नामांकन का आज अंतिम दिन था। एक सीट पर हो रहे उप चुनाव में किसी अन्य दल के प्रत्याशी का नामांकन न होने से सुधांशु त्रिवेदी का राज्यसभा सदस्य निर्वाचित होना तय माना जा रहा है। यूपी से राज्यसभा सांसद र​हे अरुण जेटली के निधन से खाली हुई हैं। पर्याप्त संख्या बल होने के चलते उनकी जीत सुनिश्चित मानी जा रही है। यूपी की सीट के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा और पूर्व यूपी भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी भी प्रबल दावेदार थे। भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को उत्तर प्रदेश से राज्यसभा उप चुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित किया। त्रिवेदी ने पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन से रिक्त हुई सीट पर शुक्रवार को नामांकन किया। सुधांशु त्रिवेदी भाजपा विधान मंडल दल कार्यालय से सेंट्रल हाल में नामांकन भरने पहुंचे। अरुण जेटली की रिक्त सीट पर सुधांशु को मौका देकर भाजपा ने जहां ब्राह्मण समीकरण साधे हैं वहीं संगठन को भी महत्व दिया है। सुधांशु त्रिवेदी मैकेनिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी हैं। जब राजनाथ सिंह यूपी के मुख्यमंत्री बने तो सुधांशु त्रिवेदी उनके सूचना सलाहकार बने। राजनाथ के पार्टी अध्यक्ष रहते सुधांशु त्रिवेदी उनके राजनीतिक सलाहकार भी रहे।