1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. अनूठा ठगबंधन: बीजेपी-कांग्रेस महिला नेता मिलकर चला रही थी सेक्स रैकेट

अनूठा ठगबंधन: बीजेपी-कांग्रेस महिला नेता मिलकर चला रही थी सेक्स रैकेट

Bjp Congress Women Leaders Were Running Sex Racket Together

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

सवाई माधोपुर। राजस्थान के सवाई माधोपुर में नाबालिग लड़कियों से जिस्मफरोशी करवाने का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। इस मामले में एक के बाद एक परते खुलती चली जा रही हैं । पूर्व में जहां इस मामले का कनेक्शन सीधे तौर पर बीजेपी की पूर्व महिला जिला अध्यक्ष सुनीता वर्मा से जुड़ा हुआ माना जा रहा था। वहीं इस मामले में आरोपी बनाई गई पूजा उर्फ पूनम चौधरी कांग्रेस सेवादल के महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष हैं। इससे कांग्रेस तथा बीजेपी दोनों ही पार्टियों में इस मामले को लेकर उथल-पुथल मच गई है।

पढ़ें :- मायावती का बड़ा ऐलान, कहा-सपा को हराने के लिए भाजपा का साथ देना पड़े तो देंगे

वहीं इस घिनौने कार्य में बीजेपी तथा कांग्रेस दोनों के ही जिला स्तरीय नेताओं का गठबंधन नजर आ रहा है। इस मामले में पुलिस की ओर से कार्यवाही करते हुए विगत दिनों जहां सुनीता वर्मा उसके साथी हीरालाल, जिला उद्योग केंद्र के लिपिक संदीप शर्मा तथा कलेक्ट्रेट के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी श्योराम मीणा को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं अब तक इस मामले में आरोपी पूजा को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है। लेकिन पूजा की गिरफ्तारी के लिए पुलिस उसके संदिग्ध ठिकानों पर लगातार दबिश दे रही है। इस मामले में अभी कुछ और चेहरों के बेनकाब होने की आशंका पुलिस ने जताई है। पुलिस इस मामले में गहनता के साथ अनुसंधान में जुटी है।

इस मामले में अब तक कुल मिलाकर 5 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। इनमें पूर्व बीजेपी महिला जिला अध्यक्ष सुनीता वर्मा, उसका साथी हीरालाल, जिला उद्योग केंद्र का लिपिक संदीप शर्मा, कलेक्ट्रेट का चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी शोराम मीणा तथा पांचवा खंडा कॉलोनी का इलेक्ट्रीशियन राजू लाल रेगर शामिल हैं। आरोपी सुनीता वर्मा तथा हीरालाल को न्यायालय ने 3 अक्टूबर तक पुलिस रिमांड पर दोबारा सौंपा है। साथ ही शोराम मीणा को न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश जारी किए गए हैं।

पुलिस ने आरोपी सुनीता वर्मा और हीरालाल को विगत 26 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद 27 सितंबर को न्यायालय में पेश किया गया। तभी से आरोपी वर्मा तथा हीरालाल पुलिस रिमांड पर चल रहे हैं। विगत दिनों यह मामला प्रकाश में आने के पश्चात बीजेपी की ओर से तुरंत प्रभाव से सुनीता वर्मा को पद से हटा दिया गया था। वहीं बीजेपी जिला अध्यक्ष ने भी इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की हैं।

कलेक्ट्रेट का चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी शिवराम मीणा आरोपी सुनीता वर्मा के संपर्क में तब आया था। जब वह कई मर्तबा ज्ञापन देने के लिए कलेक्टर के पास जाती थी तब लॉकडाउन काल के दौरान कई मर्तबा आरोपी शोराम मीणा ने सुनीता वर्मा को सैनिटाइज आदि भी उपलब्ध करवाए थे। इस दौरान शोराम मीणा ने भी नाबालिग के साथ बलात्कार किया और पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

पढ़ें :- बिहार चुनाव प्रचार के लिए जा रहे मनोज तिवारी के हेलिकॉप्टर में आई तकनीकी खामी, बाल-बाल बचे

आरोपी इलेक्ट्रीशियन राजू लाल रेगर सुनीता वर्मा के मकान में बिजली फिटिंग का कार्य करता था। वहीं सुनीता वर्मा से राजू लाल रेगर को बिजली फिटिंग मजदूरी के 2000 रुपये लेने थे। कई बार पैसे का तकाजा करने के पश्चात आरोपी सुनीता वर्मा ने नाबालिक से दुष्कर्म करवा कर अपने पैसों का हिसाब चुकता कर लिया। इस मामले में आरोपी राजू लाल रैगर को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

उपरोक्त मामले में नाबालिग से दुष्कर्म करवाने को लेकर मुख्य आरोपी सुनीता वर्मा बीजेपी में सवाई माधोपुर जिले की महिला मोर्चा से जिलाध्यक्ष रही हैं। हालांकि मामला सुर्खियों में आने के पश्चात उसे पद से तुरंत प्रभाव से निष्कासित कर दिया गया। वहीं इसी मामले में नाबालिक का संपर्क सुनीता वर्मा से करवाने वाली आरोपी पूजा उर्फ़ पूनम चौधरी की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। पूनम चौधरी सवाई माधोपुर जिला कांग्रेस सेवा दल की महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष पद पर कार्यरत है।

राजधानी जयपुर के आमेर इलाके में स्कूल जाते नाबालिग किशोरी का अपहरण कर लिया गया। उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया गया और फिर किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी गई। बुधवार को बच्ची वारदात के समय किसी काम से स्कूल जा रही थी और रास्ते में ही आरोपी जीतू और विक्रम ने उसे झांसा देकर किराये के कमरे पर ले गये। वहां एक और युवक कालू पहले से मौजूद था। तीनों के किशोरी के साथ गैंगरेप किया। पीड़िता ने जब घर पर आपबीती बताई तो पुलिस तक बात पहुंची। आमेर एसपी सौरभ तिवाड़ी के अनुसार पुलिस ने जांच करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। सतीनों दौसा के रहने वाले हैं और कुछ दिनों से पीड़िता के घर के आसपास काम कर रहे थे। और इसी बात का फायदा उठाकर किशोरी को झांसे में लेकर इस वारदात को अंजाम दिया।

सीकर के उद्योग नगर थाने में 8वीं क्लास की छात्रा अपने परिजनों के साथ पहुंची और रेप की रिपोर्ट दर्ज कराई है। 15 साल की इस किशोरी के साथ दो दरिंदों ने रेप किया। पहले एक युवक ने रेप कर वीडियो बनाया और फिर उसी वीडियो को वायरल करने धमकी देकर दूसरे साथी ने उसके साथ दरिंदगी की। पीड़िता की शिकायत के बाद सीओ सिटी (सीकर) ने पीड़िता की गुहार सुनकर मामला दर्ज कर आरोपियों की धर पकड़ शुरू की है। इनमें से मूंडरू निवासी विक्रम को गिरफ्तार कर लिया गया है लेकिन दूसरा आरोपी भींवाराम अब भी फरार है।

पढ़ें :- देश के हर व्यक्ति को मिलेगा कोरोना का टीका, कोई नहीं छूटेगा : पीएम मोदी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...