हरियाणा में BJP बहुमत से दूर, शाह ने खट्टर को दिल्ली बुलाया

Manohar lal khattar
हरियाणा में BJP बहुमत से दूर, शाह ने खट्टर को दिल्ली बुलाया

नई दिल्ली। हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों के लिए गुरुवार को हो रही मतगणना में कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर के बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को दिल्ली बुलाया है। इसी बीच कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा ने पार्टी के राज्यसभा सांसद अहमद पटेल से मुलाकात की है।

Bjp Does Not Have Majority In Haryana Elections Shah Calls Khattar To Delhi :

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने कहा कि हरियाणा में जातिवादी राजनीति के कारण भाजपा को काफी नुकसान हुआ है। हरियाणा की 99 सीटों पर हुए विधानसभा चुनावों की मतगणना जारी है, जिसमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर चल रही है।

हरियाणा में जेजेपी का रख साफ नहीं

हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों के लिए गुरुवार को हो रही मतगणना में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच कांटे का मुकाबला चल रहा है और इसमें दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) किंगमेकर साबित हो सकती है। कांग्रेस ने गठबंधन के लिए जेजेपी से पहले ही संपर्क किया है। सूत्रों ने कहा कि हालांकि चौटाला ने पार्टी को कोई आश्वासन नहीं दिया है। कांग्रेस, जजपा को अपने पाले में करने की कोशिश कर रही है, क्योंकि भाजपा भी इस नव गठित पार्टी से संपर्क करने की कोशिश में है।

नई दिल्ली। हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों के लिए गुरुवार को हो रही मतगणना में कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर के बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को दिल्ली बुलाया है। इसी बीच कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा ने पार्टी के राज्यसभा सांसद अहमद पटेल से मुलाकात की है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने कहा कि हरियाणा में जातिवादी राजनीति के कारण भाजपा को काफी नुकसान हुआ है। हरियाणा की 99 सीटों पर हुए विधानसभा चुनावों की मतगणना जारी है, जिसमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर चल रही है। हरियाणा में जेजेपी का रख साफ नहीं हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों के लिए गुरुवार को हो रही मतगणना में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच कांटे का मुकाबला चल रहा है और इसमें दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) किंगमेकर साबित हो सकती है। कांग्रेस ने गठबंधन के लिए जेजेपी से पहले ही संपर्क किया है। सूत्रों ने कहा कि हालांकि चौटाला ने पार्टी को कोई आश्वासन नहीं दिया है। कांग्रेस, जजपा को अपने पाले में करने की कोशिश कर रही है, क्योंकि भाजपा भी इस नव गठित पार्टी से संपर्क करने की कोशिश में है।