लखनऊ में 17 साल से BJP ने नहीं उतारा महिला प्रत्याशी

लखनऊ। 2017 के विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महिला विंग के चेहरों को उम्मीद है कि इस बार पार्टी चुनावों में राजधानी से महिला प्रत्याशियों को भी मौका देगी। भाजपा की महिला कार्यकर्ताओं में इस बात को लेकर काफी रोष है कि पिछले 17 सालों में भाजपा ने लखनऊ लोकसभा और 4 विधानसभा सीटों पर किसी भी महिला प्रत्याशी को उम्मीदवार नहीं बनाया है।




क्या कहना है महिला कार्यकर्ताओं का—

Bjp Dont Give Ticket To Women Candidate From Lucknow :

भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी अनीता अग्रवाल ने बताया कि पार्टी को सामान्य महिला कार्यकर्ताओं को भी टिकट देना चाहिए। उनका कहना है कि उम्मीद है इस बार पार्टी से महिला सदस्यों को टिकट दिया जाये। इस बार मैंने भी लखनऊ के कैंट से चुनाव लड़ने के लिए भाजपा से टिकट मांगा है, मुझे पूरी उम्मीद है कि भाजपा हम जैसी कार्यकताओं को कभी निराश नहीं करेगी।




रीता बहुगुणा जोशी पर फैसला पार्टी करेगी—

हाल ही में कांग्रेस छोडकर भाजपा में शामिल हुई रीता बहुगुणा जोशी को लेकर जब महिला विंग की कार्यकर्ताओं से बात की गयी तो उन सब का साफ कहना था कि रीता जोशी पर फैसला पार्टी का होगा। हालांकि अगर गौर किया जाये, तो रीता जोशी के भाजपा में आने के बाद पार्टी की महिला विंग की सदस्यों में दो मत हो गए हैं। महिला कार्यकर्ताओं का साफ तौर पर कहना है कि महिलाओं को विधानसभा चुनाव में टिकट देने का फैसला पार्टी आला कमान को ही तय करना है।

लखनऊ। 2017 के विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महिला विंग के चेहरों को उम्मीद है कि इस बार पार्टी चुनावों में राजधानी से महिला प्रत्याशियों को भी मौका देगी। भाजपा की महिला कार्यकर्ताओं में इस बात को लेकर काफी रोष है कि पिछले 17 सालों में भाजपा ने लखनऊ लोकसभा और 4 विधानसभा सीटों पर किसी भी महिला प्रत्याशी को उम्मीदवार नहीं बनाया है। क्या कहना है महिला कार्यकर्ताओं का--- भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी अनीता अग्रवाल ने बताया कि पार्टी को सामान्य महिला कार्यकर्ताओं को भी टिकट देना चाहिए। उनका कहना है कि उम्मीद है इस बार पार्टी से महिला सदस्यों को टिकट दिया जाये। इस बार मैंने भी लखनऊ के कैंट से चुनाव लड़ने के लिए भाजपा से टिकट मांगा है, मुझे पूरी उम्मीद है कि भाजपा हम जैसी कार्यकताओं को कभी निराश नहीं करेगी। रीता बहुगुणा जोशी पर फैसला पार्टी करेगी---हाल ही में कांग्रेस छोडकर भाजपा में शामिल हुई रीता बहुगुणा जोशी को लेकर जब महिला विंग की कार्यकर्ताओं से बात की गयी तो उन सब का साफ कहना था कि रीता जोशी पर फैसला पार्टी का होगा। हालांकि अगर गौर किया जाये, तो रीता जोशी के भाजपा में आने के बाद पार्टी की महिला विंग की सदस्यों में दो मत हो गए हैं। महिला कार्यकर्ताओं का साफ तौर पर कहना है कि महिलाओं को विधानसभा चुनाव में टिकट देने का फैसला पार्टी आला कमान को ही तय करना है।