BJP के फायरब्रांड नेता विनय कटियार का बयान, अयोध्या में नही है बाबरी नाम की कोई चीज

vinay katiyar
BJP के फायरब्रांड नेता विनय कटियार का बयान, अयोध्या में नही है बाबरी नाम की कोई चीज

अयोध्या। अयोध्या में राम मंदिर को लेकर वर्षो से कोर्ट में विवाद चल रहा था, आखिरकार बीते वर्ष विवाद सुलझ गया और फैसला रामलला के पक्ष में आया. अब राममंदिर का निर्माणकार्य शुरू भी हो गया है। वहीं भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रांड नेता और पूर्व सांसद विनय कटियार ने गुरुवार को सीबीआई कोर्ट में पेशी के लिए जाते समय एक विवादित बयान देते हुए कहा कि अयोध्या में बाबरी नाम की कोई चीज नहीं है. अगर होती तो यहां पर राम मंदिर नहीं बनता. उन्होंने कहा कि रामजन्मभूमि रामलला की है. साढ़े तीन लाख हिंदुओं ने इसके लिए बलिदान दिया है. इसे बाबरी नहीं कहा जा सकता. इसे राम जन्मभूमि बोलिए.

Bjp Firebrand Leader Vinay Katiyar Said There Was No Such Thing As Babri In Ayodhya :

विनय कटियार ने कहा कि कोर्ट ने हमारे पक्ष में फैसला दिया है. जमीन के समतलीकरण के दरमियान सबूत निकल रहे हैं. ये सबूत रो-रोकर कह रहे हैं वे राम मंदिर के अवशेष हैं. उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला शिरोधार्य है. अब बस केवल एक चीज बाकी है. मथुरा और काशी की तरफ देखें लेकिन कब देखा जायेगा? यह भगवान मालिक है.

बता दें अयोध्या स्थित ढांचा ध्वंस करने के मामले में सीबीआई के गवाह पूरे हो गए हैं. अब इस मामले के आरोपियो की गवाही दर्ज करके उनका पक्ष जाना जाएगा. विशेष न्यायाधीश एसके यादव ने अभियोजन की गवाही पूरी होने के बाद आरोपियों की गवाही (313 दंड प्रक्रिया संहिता) दर्ज करने के लिए लालकृष्ण आडवाणी, मुरलीमनोहर जोशी, उमा भारती और कल्याण सिंह समेत सभी आरोपियों को तलब किया है. कोर्ट ने आरोपी की गवाही दर्ज करने के लिए 28 मई की तारीख तय की है.

अयोध्या। अयोध्या में राम मंदिर को लेकर वर्षो से कोर्ट में विवाद चल रहा था, आखिरकार बीते वर्ष विवाद सुलझ गया और फैसला रामलला के पक्ष में आया. अब राममंदिर का निर्माणकार्य शुरू भी हो गया है। वहीं भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रांड नेता और पूर्व सांसद विनय कटियार ने गुरुवार को सीबीआई कोर्ट में पेशी के लिए जाते समय एक विवादित बयान देते हुए कहा कि अयोध्या में बाबरी नाम की कोई चीज नहीं है. अगर होती तो यहां पर राम मंदिर नहीं बनता. उन्होंने कहा कि रामजन्मभूमि रामलला की है. साढ़े तीन लाख हिंदुओं ने इसके लिए बलिदान दिया है. इसे बाबरी नहीं कहा जा सकता. इसे राम जन्मभूमि बोलिए. विनय कटियार ने कहा कि कोर्ट ने हमारे पक्ष में फैसला दिया है. जमीन के समतलीकरण के दरमियान सबूत निकल रहे हैं. ये सबूत रो-रोकर कह रहे हैं वे राम मंदिर के अवशेष हैं. उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला शिरोधार्य है. अब बस केवल एक चीज बाकी है. मथुरा और काशी की तरफ देखें लेकिन कब देखा जायेगा? यह भगवान मालिक है. बता दें अयोध्या स्थित ढांचा ध्वंस करने के मामले में सीबीआई के गवाह पूरे हो गए हैं. अब इस मामले के आरोपियो की गवाही दर्ज करके उनका पक्ष जाना जाएगा. विशेष न्यायाधीश एसके यादव ने अभियोजन की गवाही पूरी होने के बाद आरोपियों की गवाही (313 दंड प्रक्रिया संहिता) दर्ज करने के लिए लालकृष्ण आडवाणी, मुरलीमनोहर जोशी, उमा भारती और कल्याण सिंह समेत सभी आरोपियों को तलब किया है. कोर्ट ने आरोपी की गवाही दर्ज करने के लिए 28 मई की तारीख तय की है.