1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. BJP Government ने  जनता से जो कहा उससे कहीं अधिक काम किया : डॉ. दिनेश शर्मा

BJP Government ने  जनता से जो कहा उससे कहीं अधिक काम किया : डॉ. दिनेश शर्मा

यूपी के उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने कहा कि  राम के अस्तित्व को नकारने तथा कार सेवकों पर गोली चलवाने वालों को जनता भूलने वाली नहीं है। तमाम कार सेवक  शहीद  हुए और उन पर फर्जी मुकदमे भी लादे गए थे। प्रभु राम का नाम लेना भी अपराध हो गया था। ऐसी तथ्यहीन बाते कही गईं जिनसे दिल को दुख हुआ।

By संतोष सिंह 
Updated Date

 प्रयागराज। यूपी के उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने कहा कि  राम के अस्तित्व को नकारने तथा कार सेवकों पर गोली चलवाने वालों को जनता भूलने वाली नहीं है। तमाम कार सेवक  शहीद  हुए और उन पर फर्जी मुकदमे भी लादे गए थे। प्रभु राम का नाम लेना भी अपराध हो गया था। ऐसी तथ्यहीन बाते कही गईं जिनसे दिल को दुख हुआ।

पढ़ें :- Punjab Election 2022 : पंजाब में बदली चुनाव तारीख , अब इस दिन होगा मतदान

विपक्षी दलों ने भगवान राम को काल्पनिक तक बता दिया था। राम सेतु के अस्तित्व को भी नकारा था। इस प्रकार की मानसिकता रखने वाले दलों को जनता चुनाव में जवाब देगी। उन्होंने कहा कि अब राम के अस्तित्व को नकारने वाले भी प्रभु राम की शरण में ही कल्याण की आस लगा रहे हैं।  पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने काम करके दिखाया है। जनता से जो कहा था उससे कहीं अधिक काम किया है। संकल्प पत्र के एक एक बिन्दु पर काम किया है।

विपक्षी दलों को आडे हाथ लेते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना काल में  जब जनता तकलीफ में थी तब विपक्षी दलों के नेता घरों में छिप गए थे। एक भी बडा नेता अपने चुनाव क्षेत्र तक में नहीं दिखाई पडा  था। इसके विपरीत भाजपा के नेता और कार्यकर्ताओं ने संगठन ही सेवा नाम से अभियान चलाकर जनता की तकलीफों को कम करने का काम किया था। उस दौर में भाजपा  के कार्यकर्ता सेवा कार्य करते हुए शहीद तक हुए।  मुख्यमंत्री खुद कोविड पाजीटिव हो गए थे  इसके बावजूद जनता की सेवा में लगे रहे।

जनता ने यह सब देखा है और वह इसे भूलने वाली नहीं है।  कोरोना में जब दुनिया कराह रही थी तब उत्तर प्रदेश संघर्ष कर रहा था। डब्लूएचओ ने भी यूपी के कोरोना प्रबंधन की सराहना की है।  विपक्ष आज भी बांटो और राज करो  के फार्मूले  पर काम कर रहा है। वह जनता को  धर्म जाति क्षेत्र के आधार पर बांटना चाहते हैं। उत्तर प्रदेश में अब इस प्रकार की राजनीति के दिन चले गए हैं। अब जहां पर जातिवाद सम्प्रदायवाद परिवारवाद आदि नहीं चलने वाला है। यहां पर केवल मोदी योगी का विकासवाद ही चलेगा।

संगम नगरी प्रयागराज में कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों के सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए डा शर्मा ने कहा कि  उत्तर प्रदेश कार्यकर्ता की दृष्टि से मजबूत प्रदेश है। जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों को कार्यकर्ता का ध्यान रखना चाहिए। बेहतर संगठनकर्ता वहीं हो सकता है जो समय रहते कार्यों का विकेन्द्रीकरण करे तथा उनकी मानीटरिंग भी करे।   देवतुल्य कार्यकर्ता ही भाजपा की पूंजी है। वह अपनी मेहनत से दिशा और दशा दोनो को ही बदल देता है। डा शर्मा ने कहा कि उन्हें महापौर के दोनो चुनाव में मिली जीत का मुख्य कारण यह कार्यकर्ता ही थे।  उन्होंने कहा कि वे पार्टी कार्यकर्ता को उसका बजरंगी स्वरूप याद दिलाने आए है।

पढ़ें :- UP Election 2022 : कानपुर,अवध और बुंदेलखंड क्षेत्र के 25 फीसदी विधायकों का कट सकता है टिकट, मंथन में जुटी बीजेपी

भाजपा का कार्यकर्ता बेजोड है। वह अगर अपनी शक्ति को पहचान ले तो इस बार 350 का आंकडा भी पार होने में देर नहीं लगेगी। कार्यकर्ताओं को आगाह करते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव नजदीक आने के साथ ही  भाजपा के खिलाफ बडे बडे दुष्प्रचार किये जा सकते हैं। पार्टी को बदनाम करने के हर संभव प्रयास भी होंगे। विपक्ष के दुष्प्रचार का संयमित तरीके से जवाब दिया जाए।  भाजपा के कार्यकर्ता के लिए  कमल का फूल ही प्रत्याशी है। भाजपा के कार्यकर्ता का पिटारा उपलब्धियों से भरा हुआ है ।

भाजपा सरकारों ने इतना काम किया है जो विपक्षी दलों की सरकारें सोंच भी नहीं सकती है।   पार्टी का मुकाबला उस विपक्ष से हैं जिसे  जनता के कल्याण से कोई लेना देना नहीं है। कोरोना के कठिन समय में भी विपक्षी दलों के नेताओं ने जनता को उसके हाल पर छोड दिया था जबकि भाजपा के कार्यकर्ता जनता  को दवा अॅाक्सीजन  मेडिकल किट आदि पहुंचा रहे थे। जनता को जरूरत पडी तो केन्द्र और राज्य सरकार ने मिलकर हवाई जहाज से लेकर ट्रेन और सडक मार्ग के जरिए ऑक्सीजन को जगह जगह पहुंचाकर लोगों की मदद करने का काम किया।

पिछली सरकारों से विरासत में मिली खस्ताहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को ठीक किया गया। सभी 75 जिलों के अस्पतालों में ऑक्सीजन और वेन्टीलेटरयुक्त बेड की व्यवस्था की गई। कोरोना की महामारी जब आई तो प्रदेश में जांच के लिए लैब नहीं थी और कोविड के पहले मरीज की जांच पुणे से करानी पडी थी। वर्तमान सरकार ने इसे चुनौती के रूप में लेते हुए प्रदेश में ही तमाम स्थानों पर जांच की सुविधा विकसित की और प्रदेश में कोरोना की जांच और उपचार की फ्री व्यवस्था की ।

आज भी यूपी में डेढ लाख से अधिक टेस्ट रोज हो रहे हैं। यह कार्य करने की मजबूत इच्छाशक्ति  और सशक्त नेतृत्व के कारण संभव हुआ है। जनता के बीच में सरकार के कार्य को बताने की जरूरत है। पिछली सरकारों  में हावी रहे माफियाराज और गुन्डाराज पर योगी सरकार ने बुल्डोजर चला दिया है। जो माफिया कभी अपनी सवारी निकाला करते थे वे अब या तो जेल में हैं या प्रदेश छोडकर भाग गए हैं।  जो माफिया जनता को परेशान करते थे वे अब सरकार के सामने  माफी के लिए गिडगिडा रहे हैं। अब माताएं बहने निश्चिंत होकर रात में भी यूपी की सडकों पर चल सकती हैं।सपा बसपा कांग्रेस सरकारों में जनता को कुशासन का सामना करना पड। एक दल में भाई बहन हैं जो कभी कभी राजनैतिक पर्यटन पर निकल पडते हैं। वाराणसी भी पहुच जाते हैं और नौका विहार भी करते हैं। आरती करने का प्रयास करते हैं। अब उन्हें भी पता चल गया है कि प्रभु राम के बारे में कुछ भी कहा तो रहा सहा वोट  भी गायब हो जाएगा।  अब उन्हे  भगवान राम और बजरंगबली याद आ रहे हैं। विपक्ष के लोग प्रभु राम के जन्मस्थान पर तमाम अन्य प्रकार के भवन बनाने की बात किया करते थे। वे कहते थे कि भाजपा मंदिर बनाने की तारीख नहीं बताएगी। अब मोदी और योगी जी ने भव्य मंदिर का निर्माण आरंभ करा दिया है। कार्यकर्ताओं से उन्होंने कहा कि यही अन्तर है भाजपा और अन्य दलों में कि भाजपा जो कहती है उसे पूरा करके दिखाती है।  यही बात जनता तक पहुचानी है। विपक्ष कभी विकास के मुद्दे पर बोलते नहीं दिखेगा  क्योंकि इस फ्रन्ट पर वे भाजपा का सामना करने की स्थिति में नहीं हैं। कभी बुआ भतीजा  तो कभी दो लडके  जैसे तमाम कम्बिनेशन में विपक्ष भाजपा के खिलाफ लडकर देख चुका है पर हर बार उसे हार मिली है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे जो भी जनहित के कार्य करे तथा सरकार के जनहित के कार्यों को सोशल मीडिया पर प्रचारित अवश्य करें।  पार्टी के  कार्यकर्ताओं में विपक्ष के प्रहारों को कुंद बनाने की बेजोड क्षमता मौजूद  है।  उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को वर्तमान सरकार की उपलब्धियां जनता तक पहुचाने के साथ ही पिछली सरकारों व वर्तमान सरकार के अन्तर को भी लोगों को बताना चाहिए। जनता को भी  पता चले कि भाजपा की सरकार दूसरे दलों की सरकार से अलग कैसे है?

उप मुख्यमंत्री  ने  प्रयागराज के उप महानिरीक्षक , जिला प्रशासन के अधिकारियों , राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय व प्रोफ़ेसर रज्जू भैया विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार परीक्षा नियंत्रक , क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी , संयुक्त सचिव माध्यमिक शिक्षा , प्रयाग मंडल के जिला विद्यालय निरीक्षको  के साथ  बैठक कर शिक्षा विभाग के कार्यों का परीक्षण किया तथा सुधार के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल, महामंत्री सांसद सुब्रत पाठक, काशी क्षेत्र के अध्यक्ष महेश श्रीवास्तव ने भी संबोधित किया।

पढ़ें :- UP Election 2022 : संजय राउत ने अखिलेश को दी बड़ी नसीहत, बोले- अहंकार सबको डूबाता है

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...