1. हिन्दी समाचार
  2. बेरोजगारी और आर्थिक मंदी को दरकिनार करना BJP को पड़ा भारी, विधानसभा और उपचुनाव में लगा करारा झटका

बेरोजगारी और आर्थिक मंदी को दरकिनार करना BJP को पड़ा भारी, विधानसभा और उपचुनाव में लगा करारा झटका

Bjp Has To Overcome Unemployment And Economic Downturn

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। बेरोजगारी और आर्थिक मंदी को दरकिनार करना बीजेपी को भारी पड़ गया है। देश की 17 राज्यों की 52 सीटों पर हुए उपचुनाव में बीजेपी को करारा झटका लगा है। उपचुनाव की ज्यादातर सीटों पर बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा है, जबकि महाराष्ट्र और हरियाणा के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के वोट प्रतिशत में काफी गिरावट हुई है।

पढ़ें :- श्मशान घाट में महिलाएं करती हैं लाशों का अंतिम संस्कार, चिता जलाकर पाल रहीं हैं परिवार का पेट

इसके साथ ही दोनों राज्यों में इनकी सीटें भी घटी हैं। वहीं, कांग्रेस हरियाणा और महाराष्ट्र में पहले से मजबूत हुई है।उपचुनाव की बात करें तो, उत्तर प्रदेश की 11 सीटों में ​बीजेपी सिर्फ सात सीटों पर जीत दर्ज की है। वहीं, दो सीटों पर सपा और एक-एक सीट पर कांग्रेस और बसपा आगे हैं। ढाई वर्ष पूर्व पूर्ण बहुमत से यूपी में सरकार बनाने वाली बीजेपी के लिए यह अच्छा संकेत नहीं है।

वहीं, गुजरात की 6 विधान सीटों पर हुए उपचुनाव में बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है। बायड और थराद विधानसभा सीटों पर बीजेपी को हार मिली है और यहां पर कांग्रेस ने जीत हासिल की है। इसके अलावा राधनपुर सीट पर बीजेपी के अल्पेश ठाकोर करीब 9000 हजार मतों से पीछे चल रहे हैं।

इसके अलावा अमराईवाड़ी पर कांग्रेस आगे चल रही है। वहीं, बीजेपी ने खेरालु और लूनवाड़ा सीट पर जीत हासिल की है। ऐसे में अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह को पार्टी बदलना मंहगा पड़ा है। वहीं, बिहार में हुए पांच सीटों पर उपचुनाव में भी बीजेपी को करारा झटका लगा है। यहां की सभी सीटों पर एनडीए को हार मिली है, जब​कि लालू यादव की पार्टी आरजेडी ने दो, ओवैसी की पार्टी ने एक और एक निर्दलीय ने जीत दर्ज की है। वहीं, एक सीट पर अभी मतगणना जारी है, जिस पर ​आरजेडी आगे चल रही है।

पढ़ें :- कोरोना संकट के कारण इस बार नहीं सजेंगे दुर्गा पूजा के पंडाल, सीएम ने कहा-घर में स्थापित करें मां की मूर्ति

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...