1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. आंदोलन को बदनाम कर किसानों के बीच फूट डाल रही भाजपा: अखिलेश यादव

आंदोलन को बदनाम कर किसानों के बीच फूट डाल रही भाजपा: अखिलेश यादव

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में असहमति बड़ा अपराध बन गई है। विपक्ष उसको फूटी आंख नहीं सुहाता है। देश का अन्नदाता अपनी मांगों को लेकर 20 दिनों से आंदोलित है, लेकिन बीजेपी सरकार उनकी सुनने के बजाय अपनी मनवाने का हठ पाले है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने किसानों के बीच फूट डालने और आंदोलन को बदनाम करने का अभियान छेड़ दिया है। यह अभियान उस झूठ का हिस्सा है, जिसमें किसानों की आवाज को दबाना है।

पढ़ें :- IND vs NZ 2nd Test : अश्विन-सिराज के आगे एजाज का परफेक्ट-10 फेल, भारत को 332 रन की बढ़त

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को जारी बयान में कहा कि भाजपा सरकार सबका साथ, सबका विश्वास का झूठा नारा लोगों को गुमराह करने के लिए ही लगाती है। अन्यथा संविधान प्रदत्त अधिकारों को दरकिनार कर शांतिपूर्ण धरना-प्रदर्शन पर बर्बर पुलिसिया हमला नहीं कराया जाता। किसानों के समर्थन पर समाजवादी कार्यकर्ताओं को जेल भेजकर भाजपा सरकार ने साबित कर दिया है कि वह फर्जीवाड़ा करने की उस्ताद है। जनता से भाजपा को अपने अवैधानिक, अलोकतांत्रिक कार्य के लिए माफी मांगनी चाहिए।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि किसान, मजदूर, छात्र, व्यापारी व अधिवक्ता सहित समाज का हर वर्ग भाजपा सरकार की कुनीतियों का शिकार होकर कराह रहा है। चार वर्ष बाद अब मुख्यमंत्री कार से औचक निरीक्षण करने के लिए निकलने की घोषणा कर रहे हैं। जनता को भुलावे में डालने की यह साजिश सफल होने वाली नहीं है। मुख्यमंत्री ने तय कर लिया है कि जुमलों और हवाई वादों में ही वे अपने बचे खुचे दिन निकाल लेंगे। करने की उनकी न तो नीयत है और न ही कोई सोच है। मुख्यमंत्री ने हर काम को धुआं कर दिया। यह संवेदनशून्यता की पराकाष्ठा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...