भाजपा ने सांसद रेखा वर्मा और दो विधायकों को थमाया कारण बताओ नोटिस

कंबल बांटने पर भिड़े भाजपा सांसद और विधायक, मारपीट का वीडियो वायरल

लखनऊ। सीतापुर में कंबल वितरण कार्यक्रम के दौरान भारतीय जनता पार्टी की सांसद रेखा वर्मा और पार्टी के विधायक शशांक त्रिवेदी के समर्थकों के बीच हुई मारपीट की घटना को पार्टी प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने गंभीरता से लिया है। प्रदेश अध्यक्ष के निर्देश पर पार्टी के प्रदेश मुख्यालय ने कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए सांसद और विधायक से अपना पक्ष एक सप्ताह के भीतर पेश करने को कहा है।

पार्टी की ओर से बताया गया है कि जनपद सीतापुर के महोली तहसील परिसर में कम्बल वितरण कार्यक्रम में हुई अनुशासनहीनता की घटना के लिए सांसद धौरहरा श्रीमती रेखा वर्मा एवं विधायक महोली (सीतापुर) शंशाक त्रिवेदी को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है। इसके अलावा पार्टी ने लखीमपुर खीरी के को-आॅपरेटिव चुनाव में श्यामू पाण्डेय के साथ हुई अभद्रता के मामले को अनुशासनहीनता मानते हुए विधायक लखीमपुर योगेश वर्मा एवं विनीत मन्नार को भी कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- स्वामी प्रसाद मौर्य के भतीजे सहित कई दिग्गज सपा में शामिल }

आपको बता दें कि शनिवार को महोली तहसील में कंबल वितरण कार्यक्रम के दौरान सांसद और विधायक समर्थक आपस में भिड़ गए थे। यह मामला इतना बढ़ गया था कि मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों को बीच बचाव करना पड़ा था। इस घटना का एक वीडियो भी सुर्खियों में आया था जिसमें सांसद रेखा वर्मा हाथ में चप्पल लिए दिखाई दे रहीं थी। हालांकि घटना के बाद सांसद और विधायक ने इस मामले को समर्थक के बीच का विवाद बताकर डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश की थी।

{ यह भी पढ़ें:- ओडिशा की दिग्गज अभिनेत्री महाश्वेता रे भाजपा में शामिल }

Loading...